भागवत ने बीजेपी नेताओं को लगाई फटकार, कहा- ‘दलितों के घर खाना खाने का नाटक बंद करो’

नई दिल्ली। दलित समुदाय को रिझाने के लिए बीजेपी अपनी पूरी कोशिश में जुटी है। आजकल बीजेपी नेता दलितों के घर खाना-खाने जा रहे हैं। फिर सोशल मीडिया पर उसकी फोटो शेयर कर वाहवाही लूटते हैं। लेकिन आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने बीजेपी की इस हरकत की निंदा करते हुए इसे ड्रामा कहा है।

मोहन भागवत

मोहन भागवत ने सख्त लफ्जों में कहा है कि सिर्फ दलितों के घर खाना खाने से काम नहीं चलेगा। बीजेपी इसे प्रचार की तरह इस्तेमाल न करे। दलितों को भी अपने घर खाने पर निमंत्रित करें।

भागवत ने आगे कहा, अक्सर दीन और हाशिए पर पड़े दलित समुदाय के सामाजिक समावेश पर चर्चा के लिए हमें अपने सदनों में दलित समुदाय के सदस्यों का स्वागत करना होगा, जिस तरह वे हमारा स्वागत करते हैं।

मोहन भागवत

इसके अलावा बीजेपी की वरिष्ठ नेता और केंद्र मंत्री उमा भारती ने भी दलितों के घर खाना खाना और मीडिया के सामने फोटो खिंचवाने वाले लोगों को लताड़ लगाई हैं। उमा भारती ने कहा, वो कोई भगवान राम नहीं हैं, जो दलित के घर जाने से उस परिवार को पवित्रता मिल जाएगी। ऐसी गफलत पालना भी किसी मंत्री, सांसद, विधायक के लिए गलत है।

मोहन भागवत

छोटे नेता तो दूर बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह से लेकर यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ तक दलित के घर भोजन कर रहे हैं। अभी हाल ही में यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ भी प्रतापगढ़ के एक दलित परिवार के घर पहुंचे थे। तब मीडिया में ये खबरें आई थी कि योगी ने जिस दलित के घर खाना खाया था। वहां उनके लिए रोटी उनकी ही मंत्री स्वाति सिंह ने ही बनाई थी।

Related Articles