भाजपा नेता विनय कटियार पहले गिरफ्तार, कुछ देर बाद रिहा

लखनऊ। फतेहपुर के कस्बा जहानाबाद जा रहे भाजपा नेता विनय कटियार को कानपुर पुलिस ने हिरासत में लेने केे बाद रिहा कर  दिया है। लिया। जहानाबाद चौडगरा में विनय कटियार का इंतजार कर रहे तीन सौ से ज्यादा भाजपाइयों ने गिरफ्तारी के बाद ऐलान किया कि उनको नहीं छोड़ा जाता तो वे जहानाबाद के लिए चल देंगे। जहानाबाद में अभी भी दहशत और तनाव का माहौल है। गिरफ्तारी के बाद भाजपा नेता विनय कटियार का बयान सामने आया कि मेरे अलावा वहां हर कोई जा सकता है। इसके पीछे क्‍या वजह है, उन्‍हें बताना होगा। विनय ने कहा कि हम भी चाहते हैं कि फतेहपुर मामले में दोषियों को पकड़ा जाए। हम भी शांति चाहते है, लेकिन फिर भी हमें वापस जाने का आदेश दिया गया।

 

भाजपा नेता विनय कटियार

भाजपा नेता विनय कटियार को ले जाया गया सर्किट हाउस

 

तनावग्रस्त जहानाबाद में विनय कटियार के नेतृत्व में भाजपा के सात सदस्यीय दल को सोमवार को जाना था। विनय कटियार को लखनऊ से कानपुर आते समय कानपुर पुलिस ने जाजमऊ में ही रोक लिया और हिरासत में सर्किट हाउस ले गयी। शहर भाजपा अध्यक्ष सुरेन्द्र मैथानी, क्षेत्रीय अध्यक्ष बालचन्र्द, विधायक सतीश महाना के साथ सैकड़ों भाजपाई सर्किट हाउस पहुंच गए और हंगामा शुरू कर दिया। पुलिस अफसर भी सर्किट हाउस पहुंचे और कहा अभी उनके जाने से जहानाबाद का माहौल बिगड़ सकता है इसलिए उनको रोका गया है।

क्या था पूरा मामला

 

14 जनवरी को दो समुदायों के बीच जमकर हुई पत्थरबाजी और फायरिंग में कई लोग घायल हो गए थे। इस घटना के बाद से पूरे इलाके में अघोषित कर्फ्यू लगा दिया गया है। पुलिस ने 27 लोगों को दंगा भड़काने के आरप में गिरफ्तार भी किया है जबकि 300 से ज्यादा अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। बताया जा रहा है कि इस दौरान गोलीबारी और पथराव भी हुआ था। साथ ही 6 गाड़ियों और 3 दुकानों को आग लगा दी गई थी। घटना की ससूचना के बाद डीएम ने एसपी पुलिस व पीएससी के साथ मोर्चा संभालते हुए कस्बे की सीमाओं को सील कर दिया था।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button