भारत-पाक वार्ता से किसी को हैरानी न हो: अमेरिका

वॉशिंगटन। अमेरिका चाहता है कि भारत-पाक वार्ता जारी रहे। अमेरिका ने कहा कि भारत-पाक वार्ता से किसी को हैरानी नहीं होनी चाहिए। उसने कहा कि आतंकवादी संगठन हमले करके भारत-पाक वार्ता में खलल पैदा करना चाहते हैं। किसी भी कीमत पर भारत-पाक वार्ता में व्‍यवधान नहीं पड़ना चाहिए।

भारत-पाक वार्ता

भारत-पाक वार्ता से किसी को हैरानी नहीं

अमेरिका के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता जॉन किर्बी ने कहा कि इससे किसी भी देश को हैरानी नहीं होनी चाहिए। आतंकवादी संगठन चाहते हैं कि दोनों देशों के नेताओं के मन में व्यावहारिक प्रभाव छोड़ने वाले आपसी सहयोग के स्तर को लेकर आशंका और भय पैदा किया जा सके। आतंकवादी संगठन बिल्‍कुल नहीं चाहते कि भारत-पाक वार्ता हो।

हमेशा से भारत-पाक वार्ता को प्रोत्साहित किया
जॉन किर्बी ने कहा कि इस बात में कोई शक नहीं है कि भारत-पाक वार्ता हो। हम हमेशा से इस बात को प्रोत्साहित करते आए हैं कि भारत और पाकिस्तान में वार्ता हो। उन्होंने कहा कि हम चाहते हैं कि भारत-पाक वार्ता प्रक्रिया जारी रहे। जॉन किर्बी ने कहा कि अमेरिका चाहता है कि भारत और पाकिस्तान वार्ता और एक साझे खतरे के खिलाफ सहयोग के तरीकों को खोजना जारी रखें। हमने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ और भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बीच हाल में हुई वार्ता के लिए भी यही बात कही थी।

स्वागत करने योग्य संकेत था
प्रवक्ता किर्बी ने कहा कि यह एक स्वागत करने योग्य संकेत था कि दोनों ने वायुसेना स्टेशन पर आतंकवादी हमले की निंदा की और आतंकवाद के खिलाफ लड़ने के प्रति अपनी साझी प्रतिबद्धता व्यक्त की। यह कोई निर्थक वार्ता नहीं थी और न ही उन्होंने कोई महत्वहीन प्रतिबद्धता व्यक्त की और हम दोनों को बिल्कुल इसी प्रकार की प्रतिबद्धता करते देखना चाहते हैं। उनका बयान ऐसे समय पर आया है जब भारत-पाक वार्ता को स्थगित कर दिया है। भारत-पाक वार्ता इस सप्ताह इस्लामाबाद में होनी थी। उन्होंने निकट भविष्य में  करने पर सहमति व्यक्त की है।

भारत सरकार से अच्छे संबंध
उन्होंने एक प्रश्न का उत्तर देते हुए कहा कि भारत और अमेरिका के बीच द्विपक्षीय संबंध शानदार हैं। किर्बी ने कहा, अब भी बहुत कुछ किया जाना शेष है। यह संबंध महत्वपूर्ण है और हम इस संबंध में सुधार होते देखना चाहते हैं। हमारे भारत सरकार के साथ बहुत अच्छे संबंध हैं। हम उन्हें और बेहतर बनाना चाहते हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button