मक्का मस्जिद ब्लास्ट केस में आया नया मोड़, फैसला सुनाने वाले जज का इस्तीफा नामंजूर

0

नई दिल्ली। मक्का मस्जिद ब्लास्ट केस में नया मोड़ आ गया है। इस केस में फैसला सुनाने के बाद जज रविंद्र रेड्डी ने इस्तीफा दे दिया था। उन्होंने अपने निजी कारणों का हवाला देते हुए यह इस्तीफा दिया था। इसके साथ ही उन्होंने कोर्ट से गुजारिश की थी कि जब तक उनका इस्तीफा मंजूर नहीं हो जाता तब तक उन्हें छुट्टी पर जाने की अनुमति दी जाए। ऐसे में अब हैदराबाद हाईकोर्ट के मुख्य न्यायधीश ने उनके इस्तीफे को नामंजूर कर दिया है। साथ ही उनके द्वारा मांगी गई छुट्टी को भी कैंसिल कर दिया है।

स्वामी असीमानंद समेत पांचों आरोपियों को बरी करने के बाद जज ने दिया था इस्तीफा
जज रविंद्र रेड्डी मक्का मस्जिद ब्लास्ट केस की सुनवाई कर रहे थे। हैदराबाद में हुए इस ब्लास्ट में स्वामी असीमानंद समेत पांच लोगों पर यह मुकदमा चल रहा था। इस केस में फैसला सुनाते हुए जज रेड्डी ने असीमानंद समेत पांचों आरोपियों को बरी कर दिया था। एनआईए द्वारा आरोपियों के खिलाफ कोई भी सबूत पेश न कर पाने की वजह से उन्होंने यह फैसला दिया था।

यह केस करीब 11 सालों से चल रहा था। इस केस में फैसला सुनाने के बाद जज रेड्डी ने इस्तीफा देकर सभी को चौंका दिया था। उनके इस्तीफे को लेकर तरह-तरह के कयास भी लगाए जा रहे थे। ऐसे में अब कोर्ट द्वारा उनका इस्तीफा नामंजूर कर देना भी अपनेआप में एक चौंकाने वाला फैसला है। सूत्रों के मुताबिक जज रेड्डी करीब दो महीनों में रिटायर होने वाले थे।

loading...
शेयर करें