आठ साल की बच्ची का ऑटो चालक ने किया किडनैप

0

हल्द्वानी। कुसुमखेड़ा में झोपड़ी बनाकर रह रही मजदूर विधवा की आठ साल की बेटी को एक ऑटो चालक ने किडनैप कर लिया। जिसके बाद पुलिस को सुचना मिलते ही थाने में खलबली मच गई। सभी सीमाओं पर नाकेबंदी करने के साथ ही साथ पुलिस की तीन स्पेशल टीमें गठित की गई हैं। फ़िलहाल मुखानी थाने के साथ ही एसओजी, शहर कोतवाली, की पुलिस छोटी बच्ची की तलाश में जुट गई गई है।

मजदूर विधवा

मजदूर विधवा की आठ साल की बेटी का हुआ अपहरण

पीडिता उत्तरप्रदेश के बहराइच जिले की निवासी है। जी अभी नैनीताल जनपद के हल्द्वानी में विधवा महिला ठेकेदार के अधीन भवन निर्माण में मजदूरी कर अपना और अपने दो बच्चों का भरण-पोषण करती है। दरअसल पीडिता का परिवार कुसुमखेड़ा की आरके टेंट हाउस रोड में गायत्री विहार के पास एक बन रहे घर के पास ईंटों की अस्थायी झोपड़ी बनाकर रहती है। रोज की तरह वह नवीन मंडी के पास ठेकेदार की दूसरी साइट पर काम करने गई थी।

पुलिस कर रही है छानबीन

वहीं झोपड़ी में उसका 10 साल का बेटा और आठ साल की बेटी प्रियंका थी, शाम जब छह बजे काम से लौटी तो प्रियंका को वहां न देख उसके पैरों तले जमीन खिसक गई। जिसके बाद साथी मजदूरों व आसपास के लोगों ने बच्ची की तलाश शुरू की। पुलिस तक मामला पहुंचा तो सीओ लोकजीत सिंह समेत कई थानों की पुलिस मौके पर पहुंच गई। प्रियंका के भाई ने पूछताछ में बताया कि दोपहर तीन से पांच बजे के बीच एक आटो चालक आया था। फ़िलहाल प्पोलिस मामले की जांच कर रही है।

loading...
शेयर करें