मथुरा डबल मर्डर और लूट के एक आरोपी ने की खुदकशी

0

आगरा। हाल ही में यूपी के मथुरा में हुए डबल और ज्वैलरी शोरूम में डकैती वारदात में शामिल एक आरोपी ने आत्महत्या कर ली। मथुरा लूट में उसके सभी साथियों के पकड़े जाने के बाद उसका नाम सामने आया था। वो अपने मौसी के घर छुप कर रह रहा था। उसने अपने पिता से सरेंडर की भी बात कही थी लेकिन उसके पहले ही उसने आत्महत्या कर ली।

मथुरा लूट

मथुरा लूट में नाम सामने आने के बाद एक आरोपी फांसी के फंदे पर लटका

इस मामले में पुलिस ने छह बदमाशों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। इनसे पूछताछ में रूपेश और सौरभ का नाम सामने आया था। लेकिन पुलिस अभी तक उसे पकड़ नहीं पाई थी। गुरुवार शाम छह बजे रूपेश यादव ने बोदला क्षेत्र में आवास विकास कॉलोनी सेक्टर एक में अपनी मौसी बीना के घर फंदे से लटककर खुदकशी कर ली। मौके पर पुलिस पहुंची, तो मामला संदिग्ध लगा।

तब पुलिस ने मथुरा से उसके पिता भगवान सिंह को बुलाकर खुदकशी का कारण पूछा, तब जाकर सच सामने आया। उन्होंने बताया कि मथुरा लूट में नाम सामने आने के बाद वो सरेंडर करना चाहता था, इस बारे में उसने मुझसे बात भी थी। मैं वकील से सलाह लेने गया था, इसी बीच उसने आत्महत्या कर ली।  हालांकि पुलिस को लूट का माल बरामद नहीं हुआ।

शनिवार दोपहर पुलिस ने भगवान सिंह को छोड़ दिया। पुलिस के मुताबिक रूपेश का कोई आपराधिक रिकॉर्ड नहीं है। गौरतलब है कि गत 15 मई को मथुरा नगर कोतवाली क्षेत्र कोयला वाली गली में देर रात बाइक सवार बदमाशों ने सर्राफा व्यापारी की दुकान मे घुसकर लूटपाट के बाद चार व्यापारी को गोली मार दी थी। जिसमें दो व्यापारियों की मौके पर मौत हो गयी थी। व्यापारियों के साथ हुए गोली कांड की घटना से शहर में भारी आक्रोश है।

loading...
शेयर करें