मशीन फिल्म रिव्यू : अपने रिस्क पर जाएं, पैसा और टाइम दोनों की बर्बादी

0

फिल्म का नाम : मशीन

एक्टर : मुस्तफा, कियारा आडवाणी, दलीप ताहिल, रोनित रॉय, जॉनी लीवर

निर्देशक : अब्बास मस्तान

रेटिंग : 1

मशीन का फिल्म रिव्यू

मशीन

कहानी

फिल्म की कहानी हिमाचल प्रदेश से शुरू होती है, जहां कॉलेज में पढ़ाई कर रही सारा थापर (किआरा आडवाणी) की मुलाकात रंच (मुस्तफा) से होती है। कॉलेज के दौरान कार रेसिंग करते हुए दोनों के बीच प्यार हो जाता है। जिसके बाद कहानी में सारा के पिता (रोनित रॉय) की एंट्री होती है। धीरे-धीरे दोनों के बीच का प्यार गहरा हो जाता है और शादी हो जाती है। लेकिन शादी के बाद ही कहानी पूरी तरह से घूम जाती है और उसके दलीप ताहिल की एंट्री के साथ फिल्म में ढेर सारे ट्विस्ट और टर्न्स आते हैं। जिसे जानने के लिए आपको फिल्म देखनी पड़ेगी।

डायरेक्शन

फिल्म की कमजोर कड़ी इसकी कहानी है जो कि खिलाड़ी और बाजीगर की याद दिलाती है।कार रेसिंग से लेकर मर्डर मिस्ट्री तक काफी हद तक उन्हीं फिल्मों की याद आती है, जिसकी वजह से तुलना होना जायज है।कहानी और बेहतर की जा सकती थ। फिल्म की रिलीज से पहले इसके गाने भी ज्यादा हिट नहीं हो सके जिसका खामियाजा भी फिल्म की ओपनिंग और रन पर पड़ सकता है।

एक्टिंग

डेब्यू कर रहे मुस्तफा का काम ठीक है।कियारा आडवाणी का काम सहज है और उनके एक्सप्रेशन देखने लायक हैं। वहीं रोनित रॉय, जॉनी लीवर, दलीप ताहिल और बाकी को-स्टार्स का काम भी अच्छा है।

म्यूजिक
फिल्म का म्यूजिक अच्छा है, खासतौर पर तू चीज बड़ी है मस्त-मस्त तो पहले से ही छाया हुआ है। लेकिन कुछ गाने ऐसे भी हैं जो फिल्म को लंबा और बोरिंग बनाते हैं।

देखें या नहीं

फिल्म देखने की कोई वजह नहीं है,सिर्फ टाइम पास करना है तो जा सकते हैं।

loading...
शेयर करें