मसूद अजहर के बहाने राहुल की एक और राजनीती, PM पर साधा निशाना, बोले- कमजोर मोदी चीन से डर गए हैं

0

नई दिल्ली: 14 फ़रवरी को हुए पुलवामा हमले को अज पुरे एक महीने हो गये हैं| आतंकवादी  संगठन जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर को वैश्विक आतंकवादी घोषित कराने के प्रयास में चीन द्वारा अड़ंगा लगाए जाने के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री पर निशाना साधा है। राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा है कि कमजोर मोदी चीन से डर गए हैं।  हस्पतिवार को नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधा और आरोप लगाया कि एक बार फिर से ‘‘विफल मोदी सरकार की विफल विदेश नीति’’ उजागर हुई।

राहुल गांधी ने ट्वीट कर लिखा,  ‘कमजोर मोदी शी जिनपिंग (चीन के राष्ट्रपति) से डर गए हैं। जब चीन भारत के खिलाफ कदम उठाता है तो उनके मुंह से एक शब्द नहीं निकलता है। नरेंद्र मोदी की चीनी विदेश नीति: 1-गुजरात में शी के साथ झूला झूले, 2- दिल्ली में शी को झप्पी और 3- चीन में शी जिनफिंग के आगे नतमस्तक।’

इससे पहले कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर  कटाक्ष करते हुए ट्वीट कर कहा था, ’56 इंच वाली गले लगने की कूटनीति (हगप्लोमेसी) और झूला-झुलाने के खेल के बाद भी चीन-पाकिस्तान का जोड़ भारत को लाल-आंख दिखा रहा है । एक बार फिर एक विफल मोदी सरकार की विफल विदेश नीति उजागर हुई।

आपको बता दें कि चीन ने गुरुवार को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित करने वाले प्रस्ताव पर तकनीकी रोक लगा दी। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की ‘1267 अल कायदा सैंक्शन्स कमेटी’के तहत अजहर को आतंकवादी घोषित करने का प्रस्ताव 27 फरवरी को फ्रांस, ब्रिटेन और अमेरिका ने लाया था। चीन ने प्रस्ताव की पड़ताल करने के लिए और वक्त मांगा है। यह तकनीकी रोक छह महीनों के लिए वैध है और इसे आगे तीन महीने के लिए बढ़ाया जा सकता है।

बीते 10 साल में संयुक्त राष्ट्र में अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित कराने का यह चौथा प्रस्ताव था। संयुक्त राष्ट्र में नियुक्त भारत के राजदूत एवं स्थायी प्रतिनिधि सैयद अकबरूद्दीन ने एक ट्वीट में कहा, ‘बड़े, छोटे और कई…1 बड़े देश ने रोक दिया, फिर से…1 छोटा सिग्नल आतंक के खिलाफ संयुक्त राष्ट्र। कई देशों का आभार – बड़े और छोटे – जो अभूतपूर्व संख्या में इस कवायद में शामिल हुए।’

loading...
शेयर करें