दुल्हन की तरह सज कर दिल्ली चली महामना एक्सप्रेस, ये है खूबियां

0

वाराणसी। प्रधानमंत्री मोदी ने अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में लोगों को महामना एक्सप्रेस ट्रेन का तोहफा दिया है। शुक्रवार को वाराणसी से दिल्ली के बीच चलने वाली इस ट्रेन को पीएम ने वाराणसी में हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इस मौके पर महामना एक्सप्रेस दुल्हन की तरह सजाई गई। इंजन से लेकर सभी कोचों को माला-फूल से सजाया गया। बाहर ही नही अंदर भी सजावट हुई। इस दौरान तैयारियों का जायजा लेने के लिए उत्तर रेलवे के जीएम एके पुठिया सहित सभी अधिकारी बनारस पहुंचे। स्टेशन को साफ-सफाई कर चमका गया। महामना एक्सप्रेस कई मायनों में आम ट्रेनों से बिल्कुल अलग है। इस ट्रेन में फायरप्रूफ बोगियां हैं तो बॉयो टॉयलेट की सुविधा भी है। इलेक्ट्रॉनिक विंडो, कोच अटेंडेंट को बुलाने के लिए बटन, LED टीवी और म्यूजिक सिस्टम के साथ-साथ पढ़ाई के लिए हर केबिन में एलईडी रीडिंग लाइट भी होगी, साइड बर्थ के लिए भी स्नैक्स टेबल होगा। बता दें कि पंडित मदन मोहन मालवीय को महामना की उपाधि से सम्मानित किया गया था और यह ट्रेन उन्हीं को समर्पित है। हफ्ते में तीन दिन चलने वाली ये ट्रेन वाराणसी से दिल्ली के बीच की दूरी 14 घंटे में तय करेगी।

 mahamana-express

महामना एक्सप्रेस का किराया 15 प्रतिशत महंगा

 

महामना एक्सप्रेस का किराया भी रेलवे बोर्ड ने घोषित कर दिया है। नई ट्रेन में जनरल टिकट को छोड़कर सभी श्रेणी के किराये 15 प्रतिशत बढ़ाये गये हैं। सीनियर डीसीएम अजीत सिन्हा ने बताया कि यह निर्णय रेलवे बोर्ड गुरुवार दोपहर लिया गया।

श्रेणी     अन्य एक्सप्रेस का किराया       महामना एक्सप्रेस का किराया

 

फर्स्ट एसी                  2690                                                           3070

सेकेंड एसी                  1590                                                           1815

स्लीपर                       0425                                                            0480

new-railway-coaches-1711

फर्स्ट एसी में फुल हुई सीट

 

महामना एक्सप्रेस के उद्घाटन के बाद ट्रेन के जाने के लिए रेलवे बोर्ड ने गुरुवार दोपहर तीन बजे से रिजर्वेशन शुरू किया। रात नौ बजे तक फर्स्ट एसी की सभी सीटें फुल हो गई थी। वहीं सेकेंड एसी में 31 लोगों ने अपना रिजर्वेशन कराया। स्लीपर से यात्रा करने वाले भी पीछे नहीं थे। सीनियर डीसीएम अजीत सिन्हा ने बताया कि देर रात तक स्लीपर क्लास में लगभग 200 सीटें बुक हो गई थी। वहीं 26 जनवरी को नई दिल्ली जाने वाली ट्रेन में फर्स्ट और सेकेंड एसी में वेटिंग चल रहा है। जनरल कोच में यात्रा के लिए भी मारामारी चल रही है। लगभग 150 लोगों ने टिकट ले लिए थे।

कब-कब चलेगी ये ट्रेन

 

महामना एक्सप्रेस वाराणसी से हर मंगलवार, गुरुवार और शनिवार को चलेगी।

वाराणसी से ये ट्रेन शाम 6 बजकर 35 मिनट पर रवाना होगी।

ये ट्रेन दूसरे दिन सुबह 8 बजकर 25 मिनट पर नई दिल्ली पहुंचेगी।

नई दिल्ली से महामना एक्सप्रेस हर सोमवार, बुधवार और शुक्रवार को चलेगी।

ये ट्रेन दिल्ली से भी शाम 6 बजकर 35 मिनट पर चलेगी।

दूसरे दिन सुबह 8 बजकर 25 मिनट पर वाराणसी पहुंचेगी।

ये है ट्रेन की खास बातें

 

1- महामना एक्सप्रेस में लगे कोचेज अब तक किसी ट्रेन में नहीं लगे हैं। यानि रेलवे में अपनी तरह का यह अलग कोच है।

2- इस ट्रेन की सभी बोगियां फायर प्रूफ होंगी। बाहर आग अगर लगी भी, तो अंदर तक ये नहीं पहुंच सकेगी।

3- यात्रियों की सुविधा के लिए जर्कलेस बर्थ बनाए गए हैं।

4- ट्रेन में एलईडी लाइटिंग सिस्टम लगाए गए हैं।

5– यात्रियों के लिए आरामदायक बायो टॉयलेट और एक्जॉस्ट फैन भी होंगे।

6- हर बर्थ पर मोबाइल और लैपटॉप चार्जिंग प्वॉइंट भी दिए गए हैं।

7– ट्रेन के अंदर का कलर पैटर्न सामान्य ट्रेनों से अलग और बेहद आकर्षक है।

8- ट्रेन में चढ़ने के लिए और बौगियों में बर्थ पर चढ़ने के लिए आरामदायक सीढि़यां है।

9- जीपीएस के थ्रू आने वाले चार स्टेशन की इंफार्मेशन

10- जगह- जगह पेंटिग

loading...
शेयर करें