महाराष्ट्र में आईपीएस अधिकारी ने गोली मारकर की आत्महत्या

मुंबई पुलिस के एनकाउंटर स्पेशलिस्ट भारतीय सेना के बहादुर आफिसर हिमांशु राय ने खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली है. प्राथमिक सूचना के अनुसार, रॉय ने दक्षिण मुंबई स्थित अपने आवास पर अपनी सरकारी रिवॉल्वर से खुद को गोली मारकर आत्महत्या की है. मिली जानकारी के अनुसार राय कैंसर की बीमारी से पीड़ित थे और वह कुछ दिनों से स्वास्थ्य छुट्टी पर थे.  54 वर्षीय पुलिस के परिवार वाले उन्हें तुरंत मुम्बई के हॉस्पिटल में ले गयी लेकिन डॉक्टर भी उन्हें बचा न सके.

1988 बैच के आईपीएस अधिकारी हिमांशू रॉय वर्तमान में महाराष्ट्र पुलिस में एडिशनल डायरेक्टर जनरल के तौर पर पदस्थ थे. घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर ज्वाइंट सीपी क्राइम, कमिश्नर और क्राइम ब्रांच समेत पुलिस की स्पेशल टीम पहुंची थी.

रॉय मुंबई ब्लास्ट केस, पत्रकार जे डे मर्डर केस, कसाब से पूछताछ, आईपीएल स्पॉट फिक्सिंग और दाऊद की संपत्ति जब्त करने जैसे हाईप्रोफाइल मामलों को सुलझाने में रॉय ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी.

हिमांशु रॉय ने इन पदों पर किया है काम

हिमांशु राय नाशिक और अहमदनगर के एसपी के तौर पर काम कर चुके हैं. इसके बाद वह नासिक में डीसीपी ट्रैफिक, डीसीपी जोन 1 और पुलिस कमिश्नर के तौर पर पदस्थ रहे. वह 2009 में मुंबई पुलिस के जॉइंट कमिश्नर के तौर पर नियुक्त किये गए. इसके बाद उनकी पोस्टिंग साइबर क्राइम सेल में हुई. फिर वह महाराष्ट्र पुलिस की ATS के सदस्य बने, इसके बाद उनकी पोस्टिंग महाराष्ट्र पुलिस के एडिशनल डायरेक्टर जनरल के तौर पर हुई.

Related Articles