महिलाओं को ‘रेप’ की धमकी नहीं दी जा सकती

0

नई दिल्ली। दिल्ली के रामजस कॉलेज मामले में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) के खिलाफ आवाज उठाने के बाद सोशल मीडिया पर दुष्कर्म और जान से मारने की धमकी पाने वाली छात्रा गुरमेहर कौर ने सोमवार को कहा कि महिलाओं को दुष्कर्म की धमकी नहीं दी जा सकती। गुरमेहर ने दिल्ली महिला आयोग से मिल रही धमकियों की शिकायत करने के बाद सोमवार को कहा, “जो मुझे देशद्रोही कह रहे हैं, उन्हें पता ही नहीं है कि राष्ट्रप्रेम होता क्या है।”

गुरमेहर कौर

गुरमेहर कौर ने कहा, यह राजनीतिक दलों के बारे में है

लेडी श्रीराम कॉलेज की छात्रा गुरमेहर ने कहा, “यह राजनीति के बारे में नहीं है, न ही यह राजनीतिक दलों के बारे में है। यह विद्यार्थियों के बारे में है, हमारे विद्यालय परिसर हिंसक धमकियों से सुरक्षित होने चाहिए।” गुरमेहर ने कहा, “इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि धमकी किससे (संगठन) मिल रही है। विद्यालय परिसरों को किसी भी तरह की धमकी से सुरक्षित होने की उम्मीद की जाती है। कोई भी संगठन महिलाओं को दुष्कर्म की धमकी नहीं दे सकता। ऐसा नहीं हो सकता। यह आंदोलन किसी खास व्यक्ति के लिए नहीं है। यह एक छात्र आंदोलन है। यह आंदोलन छात्रों के लिए है, ताकि विद्यालय परिसर सुरक्षित रहें।”

उल्लेखनीय है कि गुरमेहर ने रामजस कॉलेज में हुई हिंसा के बाद सोशल मीडिया पर एबीवीपी के खिलाफ आवाज उठाई। इसके बाद उन्हें जान से मारने और दुष्कर्म की धमकियां मिलनी शुरू हो गईं। गुरमेहर ने कहा कि वह अन्य विद्यार्थियों के साथ मंगलवार को मार्च में विरोध में रैली निकालेंगी। उन्होंने कहा, “क्योंकि यह हमारे विश्वविद्यालयों का भविष्य तय करेगा। हम इस देश में किसी तरह का गुंडाराज नहीं चाहते।”

loading...
शेयर करें