कैदी ने की महिला पुलिस से गंदी बात

0

गोरखपुर। प्रदेश के मुख्‍यमंत्री अखिलेश यादव ने लखनऊ में महिला एसएसपी मंजिल सैनी की तैनाती करके यह संदेश दिया कि महिला पुलिस के आने से अपराधों पर लगाम लगेगा लेकिन इससे इतर अपराधियों ने महिला पुलिस से गंदी हरकत की।

Police

महिला पुलिस से गंदी हरकत को लेकर सख्‍त नहीं है अधिकारी

पुलिस को लेकर अपराधियों में खौफ नाम की चीज नहीं रह गई है। कही पुलिसवालों की ह्त्या हो रही है तो कहीं महिला पुलिस से अश्‍लील हरकत की जा रही है। कुछ ऐसा ही हुआ गोरखपुर में जहां एक महिला सिपाही से अश्लील हरकत की गई और ये सब हुआ अदालत के लॉकअप में।

कैदी ने कसी अश्‍लील फब्तियां

मामला कैंट थाना क्षेत्र के दीवानी कचहरी का है जहाँ बंदियों के लिए लॉकअप में पेशी के लिए लाये गए बंदी महिला सिपाही पर अश्लील फब्तियां कसने लगे और जब इसका विरोध किया गया तो बंदियों ने लॉकअप प्रभारी से हाथापाई की। मामले को बढ़ता देख आनन फानन में पुलिस बल बुलाया गया जिसके बाद जाकर हालात पर काबू पाया जा सका। फिलहाल पीड़ित पुलिस की तरफ से कैंट थाने में बन्दियों के खिलाफ तहरीर दे दी गई है जिसपर पुलिस ने कार्रवाई शुरू कर दी है।

क्‍या है मामला

कचहरी में पेशी के लिए मण्डलीय कारागार से कुछ बन्दी लाए गए थे। जिनको बारी-बारी से अदालत में सिपाही पेशी के लिए ले जा रहे थे। इसी दौरान एक कैदी की पेशी की जब गुहार हुई तो पुलिस लाइन की महिला पुलिसकर्मी उसे लाने के लिए जैसे ही लॉकअप पहुंची, उसे देखकर लॉकप में बन्द कैदियों ने पहले तो अश्लील गाने गाना शुरू कर दिया। जिसपर महिला पुलिसकर्मी ने डांट कर कैदियों को चुप कराना चाहा, तो कैदियों ने छेड़खानी शुरू कर दी। इनसे पीछा छुड़ाकर महिला पुलिसकर्मी लॉकअप इंचार्ज हेड कांस्टेबल केशरी कुमार के पास पहुंची और छेड़खानी की शिकायत की। लिहाज़ा जब लॉकअप इंचार्ज कैदियों को समझाने के लिए पहुंचे तो कैदियों ने उनसे हाथापाई की और हंगामा करने लगे।

पुलिस ने शांत कराया हंगामा

महिला पुलिस से गंदी हरकत और हंगामे को देखते हुए तत्काल इसकी सूचना पुलिस को दी गई जिसके बाद मौके पर भारी पुलिस बल के साथ एसपी सिटी, सीओ कैंट पहुंचे और बन्दियों का उत्पात शांत कराया।

loading...
शेयर करें