मायावती ने कहा, UP सरकार को कानून व्यवस्था और चुस्त-दुरुस्त करने की जरूरत

लखनऊ। कानपुर देहात में गुरुवार रात शातिर अपराधी हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे को गिरफ्तार करने गई पुलिस पर विकास के गुर्गों ने हमला कर दिया जिसमें 8 पुसिलकर्मी शहीद हो गए। जिसको लेकर प्रदेश में आक्रोश का माहौल है और विपक्ष भी  कानून व्यवस्था को लेकर हमलावर है। बसपा मुखिया मायावती ने इस प्रकरण को बेहद शर्मनाक बताया है। उन्होंने शीघ्र ही इस मामले में पुलिस से कार्रवाई से उम्मीद की है ।

 

मायावती ने ट्वीट में लिखा कि  कानपूर में शातिर अपराधियों द्वारा एक भिड़ंत में डिप्टी एसपी सहित आठ पुलिसकर्मियों की मौत व 7 अन्य के आज तड़के घायल होने की घटना अति-दु:खद, शर्मनाक व दुर्भाग्यपूर्ण। यह स्पष्ट है कि योगी आदित्यनाथ सरकार को अब भी खासकर कानून-व्यवस्था के मामले में और भी अधिक चुस्त व दुरुस्त होने की जरूरत है। उन्होंने अगले ट्वीट में लिखा कि  इस सनसनीखेज घटना के लिए अपराधियों को सरकार को किसी भी कीमत पर कि छोड़ना नहीं चाहिए, चाहे इसके लिए विशेष अभियान चलाने की जरूरत क्यों न पड़े। सरकार मृतक पुलिस के परिवार कोऑपरेशन में शहीद पुलिस के परिवार को समुचित अनुग्रह राशि के साथ ही परिवार के किसी सदस्य को नौकरी भी दे। बीएसपी की मांग है।

बता दें कि गुरुवार रात को पुलिस इनपुट मिलने के बाद हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे को पकड़ने पहुंची थी। लेकिन विकास दुबे गैंग ने घात लगाकर पुलिस पर ही हमला कर दिया। इसी एनकाउंटर में 8 पुलिसकर्मी शहीद हुए। सीएम योगी आदित्यनाथ ने भी डीजीपी से बात की है और बदमाशों पर तुरंत सख्त एक्शन लेने का निर्देश दिया है।

Related Articles