मायावती बोलीं, मोदी के आंसू बनावटी, दलित विरोधी है केंद्र सरकार

0

लखनऊ। बसपा प्रमुख और उत्‍तर प्रदेश की पूर्व मुख्‍यमंत्री मायावती 2017 के विधानसभा चुनावों को लेकर बेहद गंभीर हैं। लंबे समय से वह चुनावी तैयारी में खामोशी से जुटे हुई हैं। गुरुवार को लखनऊ में हुई एक प्रेस कांफ्रेंस में मायावती ने केंद्र पर निशाना साधते हुए कहा कि मोदी सरकार आरक्षण खत्‍म करने की कोशिश में लगी हुई है। सरकारी विभागों में आरक्षण वाले पदों को भरा नहीं जा रहा है। समीक्षा करने के बहाने आरक्षण ख़त्म करने की साजिश हो रही है। दलित उत्पीड़न में आरएसएस और भगवा संगठनों का हाथ है। साथ ही मायावती ने कहा कि प्रदेशवासी बसपा को सत्‍ता में ले आएं। बसपा के जीतते ही मैं सारे बदमाशों को जेल भेज दूंगी।

मायावती ने मोदी पर साधा निशाना

बहुजन समाज पार्टी प्रमुख ने कहा कि मोदी सरकार में बड़े पैमाने पर दलितों का उत्पीड़न हो रहा है। दलित छात्र रोहित को न्याय नहीं मिल रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लखनऊ में घड़ियाली आंसू बहा कर सहानुभूति बटोर रहे हैं। रोहित वेमुला की मौत पर कोई ठोस कदम नहीं उठाया गया।  केंद्र सरकार द्वारा बाबा साहेब की तारीफ करने या काशीराम को भारत रत्न दे भी दें तो भी दलित किसी के प्रलोभन में आने वाले नहीं हैं। सरकार को दलितों के उथान के लिए काम करना होगा। देश के दलितों की शिक्षा का ध्यान है तो केंद्र सरकार को पहले प्राइमरी स्‍कूलों में शिक्षा व्‍यवस्‍था दुरुस्त करना चाहिए। अलीगढ और जामिया यूनिवर्सिटी का अल्पसंख्यक का दर्जा छीनने के पीछे केंद्र की साजिश है। बसपा मांग करती है की उनका अल्पसंख्यक का दर्जा जारी रखना चाहिए।

उत्‍तर प्रदेश सरकार की कड़ी आलोचना

मायावती ने उत्‍तर प्रदेश की अखिलेश सरकार पर भी निशाना साधा। उन्‍होंने कहा कि यूपी की कानून वयस्था में सपा सरकार का हाल बुरा रहा है। अब सपा को भी लगता है दोबारा नहीं आ पाएंगे। इसलिए सत्ता में मंत्री लूट घसोट में लगे हैं। मुलायम ने भी यही मान लिया है। वो भी मानते हैं कि सपा सरकार फेल हो रही है। यूपी में सपा और केंद्र की बीजेपी सरकार आगामी विधानसभा चुनाव को धार्मिक रूप दे सकते हैं। कांग्रेस को भी लपेटते हुए मायावती ने कहा कि कांग्रेस भी यहां नाटकबाजी कर रही है और राहुल को दलित के घर खाना खिलवाकर नाटकबाजी कर रही है।
मायावती ने प्रदेश की जनता और बसपा कार्यकर्ताओं का आह्वान किया कि सपा, भाजपा और कांग्रेस जैसी पार्टियों से सावधान रहें तभी बसपा उत्‍तर प्रदेश में सत्ता में  आएगी। मायावती ने यह भी कहा कि सत्‍ता में आते ही खुले आम घूम रहे  बदमाशों को जेल में भेज दूँगी।

loading...
शेयर करें