लगातार हार से निराश पाकिस्तानी कप्तान लेने जा रहे संन्यास

0

मेलबर्न। आस्ट्रेलिया के खिलाफ बॉक्सिंग डे टेस्ट मैच में मिली हार के बाद पाकिस्तान टेस्ट टीम के कप्तान मिस्बाह उल हक बेहद निराश हैं। उन्होंने इस हार के बाद ऐसे संकेत दिए हैं कि वह सिडनी में होने वाले तीसरे टेस्ट मैच से पहले क्रिकेट को अलविदा कह सकते हैं। आस्ट्रेलिया ने दूसरे टेस्ट मैच में शुक्रवार को पाकिस्तान को पारी और 18 रनों से हराकर तीन टेस्ट मैचों की श्रृंखला में 2-0 की अजेय बढ़त ले ली है।

मिस्बाह उल हक

मिस्बाह उल हक क्रिकेट से ले सकते हैं संन्यास 

दूसरे टेस्ट मैच में पाकिस्तान को हार की उम्मीद नहीं थी, लेकिन फिर भी हार गयी। मैच के बाद पाकिस्तानी कप्तान मिस्बाह उल हक ने अपने संन्यास लेने के बारे में विचार करने की बात कही। इसकी वजह उन्होंने पिछले कुछ मैचों में रन न बनाना बताई।

वेबसाइट ईएसपीएनक्रिकइंफो ने मिस्बाह के हवाले से लिखा कि मुझे इसके बारे में सोचना होगा। मेरा मानना है कि अगर मैं टीम में अपना योगदान नहीं दे सकता तो मेरे टीम में रहने का कोई मतलब नहीं है। यह ऐसा समय है जब मुझे इसके बारे में सोचना चाहिए, आने वाले मैच से पहले ही।

पाकिस्तान के सबसे सफल टेस्ट कप्तान मिस्बाह ने कहा कि आने वाले दिनों में मैं इस बारे में सोचूंगा और फिर तय करूंगा कि क्या करना है। टीम में रहने और कुछ न करने का कोई अर्थ नहीं है। मैंने सिडनी के बारे में अभी तक कुछ नहीं सोचा है।

मिस्बाह उल हक के संन्यास की चर्चा काफी पहले से थी। वह भी इसके बारे में लंबे समय से सोच रहे थे। मिस्बाह ने कहा कि मैं अपने संन्यास के बारे में लंबे समय से सोच रहा हूं। मैं दुबई में इंग्लैंड के खिलाफ खेल रहा था, तब से मेरे दिमाग में यह बात चल रह थी।

उन्होंने कहा कि मैं तब सोच रहा था कि भारत के खिलाफ होने वाली श्रृंखला खेल कर मैं अलविदा कह दूंगा। राजीनितक कारणों से हालांकि भारत और पाकिस्तान के बीच श्रृंखला नहीं हो सकी।

मिस्बाह ने कहा की इसके बाद हमारे सामने इंग्लैंड, न्यूजीलैंड और आस्ट्रेलिया के मुश्किल दौरे थे, इसलिए मैंने सोचा कि यह सही समय नहीं है। मैं पिछले छह-सात साल से टीम के साथ हूं और लगातार टीम के भले के लिए काम कर रहा हूं, इसलिए मैं रुका रहा।

loading...
शेयर करें