मेट्रो में सफर करने वालों जरा संभल कर, अब नियम तोड़ा तो जुर्माने के साथ जाना पड़ेगा जेल

0

नई दिल्ली। अब अगर मेट्रो का कोई भी नियम तोड़ा तो भारी नुकसान भुगतना पड़ सकता है। सरकार ने मेट्रो को लेकर कुछ नए नियम बनाए हैं। अब केंद्र मेट्रो ऑपरेशन एंड मेंटेनेंस एक्ट में संशोधन करने जा रही है। सरकार ने मेट्रो रेल बिल का जो ड्राफ्ट तैयार किया है, उसमें अधिकतम 50 हजार तक के जुर्माने का प्रावधान है। ये एक्ट पूरे देश पर लागू होगा। 

मेट्रो के नियम

मेट्रो के नियम तोड़ने पर चार साल की जेल और 50 हजार रुपये तक का जुर्माना 

मेट्रो के संचालन में बाधा डालने वालों को 4 साल की जेल और 50 हजार रुपये तक का जुर्माने देना पड़ सकता है। अब मेट्रो में शराब पीकर हंगामा करने वालों की भी खैर नहीं, ऐसा करने पर 5 हजार का जुर्माना भरना पड़ सकता है। अब तक इस तरह के मामले में 200 रुपये का जुर्माना ही होता था। नारा लगाने वालों पर 15 हजार रुपये और मेट्रो में जबरन घुसने पर 10 हजार रुपये का जुर्माना लगाया जा सकता है। अगर बिना वजह ट्रेन में कोई अलार्म बजाता है तो उसके लिए भी जुर्माने की राशि 2 हजार रुपये से बढ़ाकर 10 हजार रुपये की जा सकती है। ट्रेन में सामान बेचना 400 रुपये 5 हजार रुपये तक का जुर्माना देना पड़ेगा।

ड्राफ्ट में कहा गया है कि खतरनाक सामान लेकर मेट्रो में यात्रा करने पर 4 साल की सजा या 5 हजार का जुर्माना लगाया जा सकता है। अगर खतरनाक सामान ले जाने से कुछ नुकसान हुआ तो उसकी भरपाई भी दोषी व्यक्ति से ही कराई जाएगी। 

पूरे देश में लागू होगा ये एक्ट

मेट्रो रेल बिल के ड्राफ्ट पर सभी मंत्रालयों से राय मांगी गई, बाद में इस बिल को कैबिनेट में पेश किया जाएगा। मंत्रालय चाहता है कि जुर्माने की राशि इतनी हो कि अगर नियम तोड़ने वाला उसे दे तो कम से कम उसे महसूस जरूर हो ताकि वह भविष्य में दोबारा नियम न तोड़े। चूंकि यह एक्ट पूरे देश पर लागू होगा इसलिए सिर्फ दिल्ली ही नहीं, बल्कि अन्य जिन लगभग एक दर्जन शहरों में मेट्रो का निर्माण कार्य चल रहा है या फिर जहां मेट्रो का ऑपरेशन शुरू हो चुका है, वहां भी यही कानून लागू माना जाएगा।

loading...
शेयर करें