जब दुश्मन बने दोस्तों ने युवक को बेरहमी से मार डाला और फिर …

0

लखनऊ। मेरठ में युवक की हत्या कर दी गई। सपा नेता के भतीजे को उसके दोस्त पहले घर से बुलाकर ले गए और फिर चाकुओं से गोद कर हत्या कर दी। पहचान छिपाने के लिए दोस्तों ने उसके चेहरे पर पत्थर से वार किया। बाद में शव को गटर में फेंक दिया। शनिवार को पुलिस ने शव को गटर से निकालकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। इस मामले में युवक के दो दोस्तों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। इनमें एक आरोपी यूपी पुलिस का सिपाही बताया जा रहा है।

मेरठ में युवक की हत्या

मेरठ में युवक की हत्या, गटर के पास मिली खून से सनी ईंटे

मेरठ में युवक की हत्या की गई वह टीपीनगर के पूठा गांव निवासी महीपाल सिंह फौजी का बेटा मनोज उर्फ सोनू था। वह खेतीबाड़ी करता था। वह सपा जिला महासचिव अनिल चौधरी का भतीजा है। शुक्रवार शाम साढ़े पांच बजे एक दोस्त उसे घर से बुलाकर साथ ले गया। मनोज अपनी सफेद रंग की स्कूटी पर निकला। देर रात तक जब वह नहीं लौटा तो उसकी खोजबीन शुरू हुई। कई थानों की पुलिस और परिजन रातभर उसे तलाशते रहे। शनिवार सुबह करीब सात बजे मनोज की स्कूटी शताब्दीनगर स्थित पानी की टंकी के पास पड़ी मिली। स्कूटी पर खून के धब्बे थे।

स्कूटी की डिग्गी से मिली मोबाइल की बैटरी

मनोज की स्कूटी की डिग्गी से मोबाइल की बैटरी बरामद हुई है। मोबाइल की कॉल डिटेल निकालकर उस आधार पर मनोज की तलाश तेज हो गई। स्कूटी से करीब 300 मीटर दूर एक गटर से मनोज की लाश बरामद हो गई। धारदार हथियार से उसका पेट फाड़ा हुआ था। चेहरे पर भी ईंट से बुरी तरह वार किए गए थे। गटर के पास से खून से सनी दो ईंटें बरामद हुई हैं। मनोज के पास दो मोबाइल रहते थे, जो गायब मिले। मृतक के परिजनों ने मनोज के दो दोस्तों के विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज कराई है। पुलिस उन दोस्तों की तलाश कर रही है। हत्या के कारणों का पता लगाया जा रहा है। इस मामले में मनाेज के कई दोस्तों के मोबाइल का विवरण जुटाया जा रहा है।

loading...
शेयर करें