मेला रामनगरिया का हुआ भव्य आगाज, डी.जे द्वारा किया गया शुभारंभ

फर्रुखाबाद

माघ महीने के आरंभ होते ही पांचाल घाट पर मेला रामनगरिया का जिला जज द्वारा पूजन करके व दीपोत्सव करने के साथ ही भव्य आगाज हुआ। पिछले कई दिनों से मेला रामनगरिया की तैयारियां प्रशासन द्वारा युद्ध स्तर पर की जा रही है और आज माघ महीने के प्रथम दिन मेले का उद्घाटन एवं दीपोत्सव पिछले वर्षों की भांति कोरोना संक्रमण को ध्यान में रखते हुए बड़ी भव्यता से किया गया। हालांकि मेले के उद्घाटन का कार्यक्रम जिलाधिकारी द्वारा किया जाना तय था परंतु किसी कारणवश जिलाधिकारी महोदय मेले के उद्घाटन के लिए नहीं पहुंच सके।

जिला न्यायाधीश द्वारा मेला रामनगरिया का मंत्रोचार एवं पूजन करके शुभारंभ किया गया। प्रशासन द्वारा भी मेले के उद्घाटन के लिए विविध प्रकार की तैयारियां की गई। मेला कार्यालय को फूलों की मालाओं से भव्यता पूर्वक सजाया गया। मेला कार्यालय परिसर में बनाई गई रंगोली सभी का ध्यान आकर्षित कर रही थी। रंगोली को विविध प्रकार के भव्य रंगों से अच्छी तरह सजाया गया । वर्तमान समय में पूरे प्रदेश में कोरोना महामारी की लहर दौड़ रही है और कार्यक्रम में कोरोना को ध्यान में रखते हुए सभी लोग मास्क लगाए हुए नजर आए वहीं सोशल डिस्टेंसिंग का भी सही ढंग से पालन किया गया। प्रशासन द्वारा मास के वितरण का कार्यक्रम भी किया गया। पूजन के बाद जिला न्यायाधीश के द्वारा गंगा के तट पर दीपदान का कार्यक्रम भी किया गया।

इस पवित्र माह में पूरे एक महीने तक पांचाल घाट तट पर दूर दूर के कल्पवासी गंगा स्नान करने के लिए यहां आते हैं। अपरा काशी नाम से प्रसिद्ध पांचाल घाट तट पर दूर-दूर स्थानों से मेले में साधु संतों का जमावड़ा होता है। माघ के पवित्र महीने में गंगा स्नान करने के लिए श्रद्धालुओं की उपस्थिति पांचाल घाट तक को अत्यधिक सुशोभित करती है। विभिन्न प्रकार के सांस्कृतिक कार्यक्रमों के लिए विविध प्रदर्शनी के माध्यम से लोगों को जागरुक भी किया जाता है। दूर-दूर के जनपदों से एवं अन्य प्रदेशों से भी व्यापारी अपनी-अपनी दुकानों को मेले में लगाने के लिए आते हैं।

Related Articles