IPL
IPL

देश में आज भी है मोदी की लहर

मोदी सरकार नई दिल्ली। केंद्र में मोदी सरकार को 20 महीने पूरे हो चुके हैं। इन 20 महीनों के कार्यकाल में कई जगह पर सरकार को आलोचनाओं का शिकार होना पड़ा तो कई जगह वाहवाही भी खूब मिली। मोदी को पार्टी का सबसे अहम चेहरा मानकर बीजेपी ने कई राज्‍यों के चुनावों में जीत हासिल की तो कई में उसे हार की मायूसी भी मिली।

मोदी सरकार पर कितना भरोसा है देश को

लोकसभा चुनावों में मोदी देश का सबसे बड़ा चेहरा बनकर उभरे। देश की जनता ने उन्‍हें सर आखों पर बिठाया। लेकिन क्‍या वही भरोसा आज भी कायम है या नहीं? आख्रिर आज देश में किसकी है लहर? इन सारे सवालों के जवाब देता है एबीपी न्‍यूज और नीलसन ग्रुप का सर्वे-

सर्वे के मुताबिक प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आज भी लोगों की पहली पसंद बने हुए है। सर्वे में 58 फीसदी लोगों ने उनकी सराहना की और उनके नेतृत्व से खुशी जाहिर की। दूसरे नंबर पर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी है जिन्हें 11 फीसदी वोट मिले। तीसरे नंबर के लिए सोनिया गांधी तथा अरविंद केजरीवाल को 4 फीसदी लोगों ने ही पसंद किया।

वहीं दूसरी ओर यूपीए तथा अन्य विपक्षी दलों के लिए अभी भी जनता के दिल में सहानुभूति नहीं है। यूपीए को सिर्फ 108 सीटों पर तथा अन्य दलों के खाते में 114 सीटें जाने का अनुमान जताया गया है। हालांकि यूपीए को 48 सीटों का फायदा होगा लेकिन अन्य विपक्षी दलों के लिए कोई शुभ समाचार नहीं है।

सर्वे के मुताबिक पंजाब, राजस्थान, बिहार और मध्यप्रदेश में भाजपा को सीटों पर घाटा हो सकता है जबकि यूपीए की सीटें बढ़ने की उम्मीद जताई जा रही है। जबकि ओडिशा, कर्नाटक तथा पश्चिम बंगाल में एनडीए को फायदा होगा, इसी तरह वामपंथी मोर्चे को केरल तथा पश्चिम बंगाल में बढ़ी हुई सीटें मिल रही हैं।

भाजपानीत एनडीए गठबंधन को साल 2014 के लोकसभा चुनाव में 39 फीसदी मत मिले थे, वर्तमान में उसे एक फीसदी का नुकसान होता दिखाई दे रहा है, अर्थात 38 फीसदी वोट अभी भी उसके साथ है। इसी तरह यूपीए को 2014 में 26 फीसदी मत मिले थे, यूपीए को इस बार 2 फीसदी वोट अधिक मिलेंगे परन्तु अन्य दलों को वोट प्रतिशत कम हो जाएगा।

यह सर्वे 8 से 13 जनवरी के बीच किया गया। सर्वे के दौरान 19 राज्यों में 109 लोकसभा क्षेत्रों से कुल 16 हजार 732 वोटरों से राय ली गई। हर लोकसभा सीट की तीन विधानसभा सीटों पर लोगों की राय जानी गई।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button