गुजरात को 7 महीने पहले ही पता चल गया था पीएम मोदी के नोटबंदी का फैसला

0

नई दिल्ली।  देश को चौंकाते हुए पीएम मोदी 8 नवंबर को 500, 1000 के नोट बंद करने की घोषणा की। जिसके बाद पूरे देश में खलबली सी मच गयी। सभी लोग पुराने 500, 1000 के नोटों को लेकर बैंकों के चक्कर काटने लगें। वहीं कुछ लोग कालेधन को सफ़ेद धन बनाने में लग गयें। लेकिन आपको बता दें कि आज से ठीक 7 महीने पहले गुजरात के संध्या पेपर राजकोट ‘अकीला’ में एक खबर छपी थी जिसमें 500, 1000 के नोट बंद होने की बात कही गयी थी।

मोदी

मोदी ने 8 नवंबर को किया था 500 और 1000 के नोट बंद का ऐलान

दरअसल समाचार पत्र अकीला का यह लेख एक अप्रैल को छपा था जिसमें कहा गया था कि मोदी सरकार काले धन, भष्टाचार, और आतंकवाद पर लगाम लगाने के लिए 500, 1000 के नोटों का चलन बंद करने जा रही है। फ़िलहाल यह स्टोरी हर जगह वायरल हो रही है। यहां

तक कि अकीला पेपर के संपादक क्रित गनातरा के पास इस मामले को लेकर लगातार फोन भी आने लगे कि आखिर इतने महीने पहले उन्हें पीएम मोदी के फैसले के बारे जानकारी कैसे मिली। वहीं आखिर में 10 नवंबर को अकीला के संपादक सफाई देते हुए कहा कि उसने दूसरों की तरह एक अप्रैल को लोगों को बेवकूफ बनाया। उन्होंने ये भी कहा कि उन्हें पहले से ऐसी कोई जानकारी नहीं थी कि आने वाले दिनों में 500 और 1000 के नोट बंद होने वाले हैं।

loading...
शेयर करें