अगर अपनाएंगे ये तरीका तो नहीं छेड़ेगा कोई लड़का

0

देहरादून, (मोहम्मद शोएब खान)। उत्तराखंड की इस लड़की ने मनचले लड़कों को सबक सिखाने के लिए नया तरीका निकला। यहां एक कॉलेज छात्रा को कुछ मनचले लड़के छेड़ते थे। वह लड़के कॉलेज की लड़कियों से उनका मोबाइल नंबर मांगते थे। जिससे परेशान होकर एक लड़की ने उन लड़कों को थानाध्यक्ष का नंबर दे दिया और इसकी जानकारी थानाध्यक्ष को दे दी। जिसके बाद पुलिस ने उन मनचले को पकड़ लिया।

मोबाइल नंबर

मनचलों को दिया थानाध्यक्ष का मोबाइल नंबर

बनभूलपुरा थानाध्यक्ष नीरज भाकुनी ने बताया कि छात्राओं को सशक्त बनाने के लिए स्कूल-कालेजों मे जागरूकता कार्यक्रम चलाए जा रहे है। छात्राओं के स्कूल के बाहर से शिकायत पेटी भी लगाई गई है। पेटी में थानाध्यक्ष का मोबाइल नंबर भी लिखा है, जिसमें छात्राएं गोपनीय तरीके से अपनी शिकायत पुलिस तक पहुंचा सकती हैं। इन शिकायत पेटियों मे अब तक छेड़छाड़ की कई शिकायतें आ चुकी है।

जिस पर कार्रवाई कर मनचलों को पकड़ा जाता है। बुधवार को जीजीआइसी बनभूलपुरा में एक शिकायती पत्र मिला। इसमें छात्रा ने आरोप लगाया कि इंदिरानगर में रहने वाला जावेद नाम का फल-सब्जी कारोबारी अक्सर पीछा करता है और मोबाइल नंबर मांगता है।

इस पर एक अन्य छात्रा ने थानाध्यक्ष नीरज भाकुनी का नंबर दे दिया, जबकि पुलिस के नाम लिखे गए पत्र में छात्रा ने जावेद के घर का पूरा पता भी लिखा था। थानाध्यक्ष ने पुलिसकर्मी भेजे तो जावेद का नाम-पता तस्दीक हो गया। इस पर उसे पकड़कर थाने लाया गया। पीछे-पीछे जावेद के परिजन भी थाने पहुंचे।

पुलिसकर्मियों ने परिजनों को जावेद की करतूतों से अवगत कराया, वहीं पुलिस के चुंगल में फंसता देख जावेद भविष्य में छेड़छाड़ नहीं करने का वादा कर माफी मांगने लगा। थानाध्यक्ष ने बताया कि जावेद के साथ ही परिजनों से भी माफीनामा लिखवाया गया है। अगर भविष्य में फिर से जावेद की शिकायत मिली तो कानूनी कार्रवाई की जाएगी। इस घटना के बाद सभी ने लड़की के इस नायाब तरीके को सराहा।

loading...
शेयर करें