मौत के पांच घंटे बाद उठकर खड़ा हो गया ये शख्स, फिर बताया यमलोक में उसके साथ क्या हुआ

नई दिल्ली। किसी का मर कर वापस जिंदा होना अभी तक आपने सिर्फ कहानियों में सुना होगा। लेकिन हम आपको जो घटना बताने जा रहे हैं वो कहानी नहीं, सच है। जहां एक शख्स अपनी मौत के पांच घंटे बाद उठकर खड़ा हो गया और बोला- वो मुझे गलती से ले गए थे, अब वापस भेज दिया।

मौत के पांच घंटे बाद

जी हां, इस बात पर यकीन करना जरा मुश्किल है लेकिन ये सच है। खबरों के मुताबिक, अलीगढ़ के अतरौली में किरथल गांव निवासी रामकिशोर का कुछ दिन पहले अचानक निधन हो गया था। उन्‍हें किसी भी प्रकार की गंभीर बीमारी नहीं थी। बस अचानक उनकी आंखों के आगे अंधेरा सा छा गया और उनकी घड़कने बंद हो गईं। ये देखकर परिवार के लोग घबरा गए और नम आंखों के साथ बिलखने लगे। सूचना मिलने पर करीबी रिश्तेदार गांव पहुंच गए। परिवार और ग्रामीणों ने अंतिम संस्कार की तैयारी शुरू कर दी।

लेकिन जैसे ही शव को नहलाने के बाद रामकिशोर के शव को अर्थी पर रखा तो उनके शरीर में हलचल होने लगी। इसे देखकर वहां मौजूद सभी लोग हैरान रह गये, तभी अचानक रामकिशोर उठकर बैठ गये और कहा कि अब वह एकदम ठीक हैं, यमदूत गलती से मुझे ले गये थे, अब वापस भेज दिया।

जिंदा होने के बाद रामकिशोर से लोगों को बताया कि बिते 5 घंटे के बारे में ज्‍यादा कुछ याद नहीं है लेकिन जहां गया था वहां एक बैठक चल रही थी और कुछ दाढ़ी वाले महात्मा अपने प्रमुख से बारी-बारी बातें कर रहे थे। उन्होंने कहा कि इस दौरान सबसे बुजुर्ग महात्मा ने उनके बारे में कई सवाल किये और पूछा कि इसे क्यों लाये हो, इसे ले जाओ, अभी समय है। रामकिशोर ने बताया कि इसके तुरंत बाद उन्हें एक धक्का सा लगा और जब आंखें खुली तो घर पर रोते-बिलखते परिवार वालों को देखा।

Related Articles