लड़के का लिंग चेंज कराकर बनाया लड़की, किया रेप, मंगवाई भीख

मामला है है दिल्ली के गीता कॉलोनी का। जहां तीन साल पहले आरोपियों ने शुभम नाम के एक लड़के से मुलाकात की। ये मुलाकात लक्ष्मी डांस इवेंट के दौरान हुई थी। पहले आरोपियों ने शुभम से दोस्ती की और फिसे डांस सिखाने के बहाने मंडावली ले गए।

नई दिल्ली: दिल्ली से एक ऐसी खबर सामने आई है जिसे सुनने के बाद आपके भी होश उड़ जाएंगे। दरअसल यहां एक 13 साल के मासूम बच्चे का लिंग परिवर्तन कराकर उसके साथ घिनौना काम किया जाता था। मामला है है दिल्ली के गीता कॉलोनी का। जहां तीन साल पहले आरोपियों ने शुभम नाम के एक लड़के से मुलाकात की। ये मुलाकात लक्ष्मी डांस इवेंट के दौरान हुई थी। पहले आरोपियों ने शुभम से दोस्ती की और फिसे डांस सिखाने के बहाने मंडावली ले गए। मंडावली में कुछ समय के लिए शुभम में डांस प्रोग्राम में हिस्सा लिया जिसके लिए आरोपी उससे पैसा देते थे।

लेकिन थोड़े वक्त बाद आरोपियों ने शुभम से मंडावली रहने की ही जिद करना शुरू कर दिया। इस दौरान शुभम को नशीला पदार्थ भी दिया जाता था जिससे वो दिन भर नशे में रहता था। इसके बाद आरोपियों ने जबरदस्ती शुभम का लिंग परिवर्तन करा दिया। शुभम को हार्मोन्स के इन्जेक्शन दिया गया जिससे कि वो पूरी तरह लड़की में बदल गया।

शुभम के हॉर्मोन्स चेंज कराने के बाद आरोपी और उसके 5 दोस्त और अन्य कस्टमर भी उसके साथ बलात्कार करते थे। इतना ही नहीं, रेप के बाद दरिंदों ने उसे किन्नर बनाकर स्टेशन पर उससे भीख भी मंगवाई। शुभम ने बताया कि वो लोग खुद भी औरतों की पोषाक पहने कर भीख मांगने जाते थे।

वहीं जब लॉकडाउन हुआ तो शुभम और उसका दोस्त उन दरिंदों से बचकर भाग निकले। शुभम , उसका दोस्त अब शुभम के मां-बाप और बहन के साथ घर बदलकर रहना लगे। लेकिन दरिंदों ने शुभम के घर का नया पता भी ढूंढ निकाला और उसके घर जाकर काफी मार-पीट किया।

यह भी पढ़ें: बिहार का खेल अब यूपी में भी खेलेंगे ओवैसी, जानिए कौन सी पार्टी को बना रहें हैं निशाना

इसके बाद शुभम और उसका दोस्त वहां से भाग कर नई दिल्ली रेल्वे स्टेशन पर छि‍प गए. अगले दिन एक वकील ने बच्चों को वहां देखा तो उन्हें दिल्ली महिला आयोग पंहुचाया. शुभम ने कहा कि पुलिस बार-बार शिकायत वापस लेने को कह रही है और दबाव बना रही है कि एफआईआर हुई तो उसको भी जेल जाना पड़ेगा।

यह भी पढ़ें: INDIA में Viao ने फिर से मारी एंट्री, 2 नए लैपटॉप्स किए लॉन्च

शुभम ने बताया कि जब उसका लिंग परिवर्तन किया गया तो उसकी हालत खराब हो गई थी. जब उसकी मां देखने आई तो आरोपियों ने मां को बंदूक दिखाया और पुलिस में शिकायत न करने की धमकी दी।

हालांकि दिल्ली महिला आयोग की सदस्य सारिका चौधरी ने मामले में तुरंत FIR कराई. मामले में सेक्शन 377, 363, 326, 506, 341 और पॉक्सोर एक्टी के तहत मामला दर्ज हुआ. फिलहाल 2 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है गया है। 2 आरोपी अब भी फरार है।

Related Articles

Back to top button