ये कौन दे रहा था परीक्षा जानेंगे तो चौंक जाएंगे

0

आगरा। यूपी बोर्ड हाईस्कूल परीक्षा मे एक ऐसा मामला सामने आया जहां पिता अपने बेटे की परीक्षा देने की लिए परीक्षा केंद्र जाता था। मामला बाह तहसील के रहलई स्थित श्रीमती मानकुंवर सिंह कन्या इंटर कॉलेज का है।

यूपी बोर्ड परीक्षाओं मे मुन्नाभाई बनकर दूसरे की जगह तो कई लोग परीक्षा देते हैं जो पकड़े भी जाते हैं। नकल विहीन परीक्षा कराने के लिए शिक्षा विभाग भी जुटा हुआ है औऱ सचल दल लगातार परीक्षा केंद्रों पर निगरानी रखकर नकल पर नकेल कसने की कोशिश कर रहे हैं लेकिन इस तरह के मामले सामने आने से अहसास जरूर हो जाता है कि नकल माफिया और शातिर विभाग की सोच से काफी आगे चल रहे हैं।

यूपी बोर्ड

मंगलवार को हाईस्कूल की परीक्षा मे जो मामला सामने आया उसमे साफ हो गया कि अधिकारी चाहे परीक्षा मे नकल रोकने की कितनी भी कोशिश कर ले लोग अपना मतलब सीधा कर ही लेते हैं। जानकार बताते हैं कि नकल माफिया ज्यादातर गांव में दूरदराज के स्कूलों को परीक्षा केन्द्र बनवाते हैं जहां सचल दल आसानी से न पहुंच सके। कई स्तरीय सुरक्षा व्यवस्था की तर्ज पर नकलची छात्रों को सुरक्षा दी जाती है। सचल दल के आने की पहले से खबर दी जाती है। और निकल जाने की भी बाकायदा सूचना दी जाती है।

cheating-54e63ca07b58e_exlst

यूपी बोर्ड परीक्षा में ऐसे पकड़ में आया शातिर

मंगलवार को हाईस्कूल गणित की परीक्षा मे डीआईओएस द्वतीय के सचल दल ने बाह तहसील के रहलई स्थित श्रीमती मानकुंवर कन्या इंटर कॉलेज मे चैकिंग की तो एक परीक्षार्थी संदिग्ध दिखायी दिया। जांच की तो पाया गया कि उक्त व्यक्ति जिसका नाम रतीराम था वो अपने बेटे रामविलास के बदले परीक्षा दे रहा था।

इस मामले के सामने आने के बाद डीआईओएस टू ने मामले में आरोपी पिता को गिरफ्तार कर थाने के सुपुर्द कर दिया औऱ बेटे की कॉपी पर यूएफएम लिखकर केंद्र व्यवस्थापक को आरोपी के खिलाफ थाने मे मुकदमा दर्ज करने के आदेश दे दिये हैं। इसके साथ ही शिक्षा विभाग के सचल दलों ने गणित की परीक्षा मे कई नकलचियों को भी पकड़ा है।

loading...
शेयर करें