हो गया फैसला – देश में मोदी और अब उत्तर प्रदेश में योगी, यूपी के नए मुख्यमंत्री का हुआ ऐलान

0

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री पद के लिए लगाई जा रही अटकलों के बीच बीजेपी ने गोरखपुर के सांसद योगी आदित्यनाथ को यूपी का सीएम बना दिया है। न्यूज एजेंसी ANI ने इस बात की पुष्टि की है। इससे पहले खबर आ रही थी कि सीएम की इस रेस में योगी के अलावा बीजेपी यूपी अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्या और रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा शामिल थे। लेकिन सिन्हा ने इस रेस से अपना नाम पहले ही खीच लिया था। कल दोपहर 2. 15 बजे सीएम पोस्ट की शपथ लेंगे। इस दौरान नरेंद्र मोदी और अमित शाह भी मौजद रहेंगे। इसके सा‍थ ही केशव मौर्य और दिनेश शर्मा होंगे डिप्टी सीएम।

यह भी पढ़ें : सड़कों पर उतरे लोगों ने लगाए नारे – यूपी को चाहिए योगी-योगी, मोदी ने तुरंत प्लेन से दिल्ली बुलायायोगी को

योगी आदित्यनाथ को क्यों बनाया गया यूपी का सीएम 

कट्टर हिंदूवादी चेहरा हैं। बीजेपी के फायर ब्रांड नेता हैं। मंदिर आंदोलन से जुड़े हुए नेता हैं। राम मंदिर का मुद्दा उठाते रहे हैं। 2019 में लोकसभा चुनाव होने हैं। ऐसा माना जा रहा है कि जैसा पोलराइजेशन इस विधानसभा चुनाव में हुआ है, 2019 में भी हो सकता है। इस चुनाव में वेस्ट यूपी से लेकर पूर्वांचल तक योगी आदित्यनाथ ने जमकर प्रचार किया। माना जा रहा है कि इससे बीजेपी को भारी जीत में काफी फायदा हुआ। बीजेपी को जो बहुमत मिला है, उसमें हिंदुत्व का एजेंडा ही कारगर रहा है।
आदित्यनाथ पर करप्शन का कोई आरोप नहीं है। गोरखपुर से 5 बार सांसद रहे हैं।

बता दें योगी आदित्यनाथ को सीएम बनाने की बहुत पहले से हो रही थी। उनके समर्थकों ने मांग की थी कि योगी को यूपी का सीएम बनाया जाए। इसके बाद बीजेपी आलाकमान ने बीजेपी सांसद योगी आदित्यनाथ को चार्टर्ड प्लेस से दिल्ली बुलाया था। योगी के अलावा दूसरी तरफ खुशीनगर के बीजेपी समर्थक लखनऊ में धरना दे रहे थे कि बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्या को सीएम मुख्यमंत्री बनाया जाए। हालाकि केशव मौर्या ने अपना नाम इस रेस से खुद बाहर कर लिया था।

यह भी पढ़ें : … जब अमित शाह को मिला राहुल गांधी का सलाहकार बनने का ऑफर, दिया ये जवाब

केशव प्रसाद ने बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के घर बैठक की थी। अमित शाह से मिलने के बाद प्रदेश अध्यक्ष केशव मौर्य ने कहा था कि सीएम की कोई रेस नहीं है। इससे पहले यूपी सीएम पद की रेस में केंद्रीय राज्यमंत्री मनोज सिन्हा का नाम सबसे आगे होने की खबर के बीच बीजेपी कार्यकर्ताओं ने केशव प्रसाद मौर्य को मुख्यमंत्री बनाए जाने की मांग को लेकर लखनऊ में विरोध प्रदर्शन किया था। जबकि मनोज सिन्हा को बनारस से सीधे दिल्ली बुलाया गया था। हालांकि शनिवार को मनोज सिन्हा ने खुद के सीएम बनने की बात को फिर से खारिज कर दिया था।

loading...
शेयर करें