सीएम योगी आदित्यनाथ ने योग को बताया ऋषियों का प्रसाद

0

गोरखपुर। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को कहा कि योग भारत के ऋषियों का प्रसाद है। योग दुनिया को भारत की अमूल्य देन है। योगी गुरुवार को गोरखपुर में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस से पहले आयोजित साप्ताहिक योग शिविर व शैक्षिक कार्यशाला का उद्घाटन करने के बाद समारोह को संबोधित कर रहे थे।

योगी आदित्यनाथ

योगी आदित्यनाथ  ने कहा- पीएम मोदी ने योग को दिलाई अंतर्राष्ट्रीय मान्यता

योगी ने कहा, “योग की इस अद्भुत विधा को अंतर्राष्ट्रीय मान्यता भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिलाई है। भारत की सनातन संस्कृति के प्रति अनुराग रखने वाला मेरे जैसा हर व्यक्ति प्रधानमंत्री जी का आभारी है।”

योगी आदित्यनाथ ने कहा, “अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर लखनऊ में 55,000 लोगों के साथ प्रधानमंत्री जी योग करेंगे। उप्र इस आयोजन को ऐतिहासिक बनाएगा। हम उस दिन जहां भी हों, सुबह 6.30 बजे से आठ बजे योग शिविरों या कार्यक्रमों में हिस्सा लें। हम योग को जन आंदोलन का रूप दें। इसे जन अभियान बनाएं और दैनिक जीवन में आत्मसात करें।”

बता दें कि 15 जून से 21 जून तक चलने वाली साप्ताहिक योग शिविर व शैक्षिक कार्यशाला में कुल 206 योग प्रशिक्षु और 270 शिक्षक व कर्मचारी शामिल होंगे। अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 21 जून को है।

इस अवसर पर महायोगी गोरखनाथ योगाश्रम संघ, त्रिपुरा, असम द्वारा मुख्यमंत्री योगी को बांस से बनी भगवान महादेव की कलाकृति भेंट की गई।

loading...
शेयर करें