अश्विन ने पढ़ें जडेजा-साहा के तारीफों के कसीदे, कहा- दोनों का खेल काबिल-ए-तारीफ

0

धर्मशाला| भारतीय टीम के ऑफ स्पिन गेंदबाज रविचंद्रन अश्विन ने सोमवार को हरफनमौला रवींद्र जडेजा और विकेटकीपर-बल्लेबाज रिद्धिमान साहा की जमकर तारीफ की। इन दोनों के बीच सातवें विकेट के लिए 96 रनों की साझेदारी के दम पर ही भारत ने चौथे टेस्ट में आस्ट्रेलिया पर मामूली लेकिन अहम 32 रनों की बढ़त हासिल की थी। भारत ने तीसरे दिन की शुरुआत दूसरे दिन के अपने स्कोर छह विकेट के नुकसान पर 248 रनों के स्कोर के साथ की थी। इस जोड़ी ने तीसरे दिन पहले सत्र में 69 जोड़े और भारत को आस्ट्रेलिया के पहली पारी के स्कोर 300 रनों से आगे ले गए।

रविचंद्रन अश्विन

रविचंद्रन अश्विन ने जमकर की जडेजा और साहा की तारीफ़

जडेजा ने 67 रन बनाए जबकि साहा ने 31 रनों का योगदान दिया। अश्विन ने दिन का खेल खत्म होने के बाद कहा कि यह जादुई था। आप इससे ज्यादा और क्या चाहोगे। जड्डू (जडेजा) और साहा ने शानदार बल्लेबाजी की। इससे हमें बढ़त मिली।

रविचंद्रन अश्विन ने कहा कि यह सुबह विशेष थी। साहा और जडडू ने शानदार खेल दिखाया। वह जादुई सत्र था। मैंने जड्डू से कहा कि वह शतक बना सकते थे। वह प्रतिभाशाली बल्लेबाज हैं, अगर वह थोड़ा और देर वहां खड़े होते तो शतक लगाते। उम्मीद है कि (मंगलवार को) विजय और राहुल मजबूत बल्लेबाजी करेंगे और वह अपने अर्धशतक पूरे कर सकेंगे।

भारत ने आस्ट्रेलिया पर बढ़त लेने के बाद उसे दूसरी पारी में महज 137 रनों पर ही ढेर कर दिया। इसमें अश्विन का बखूबी साथ दिया उमेश यादव, जडेजा और भुवनेश्वर ने। अश्विन, उमेश और जडेजा ने तीन-तीन विकेट लिए जबकि भुवनेश्वर को एक विकेट मिला।

रविचंद्रन अश्विन ने उमेश और भुवनेश्वर की भी जमकर तारीफ की और कहा, “उमेश और भुवी ने अच्छे स्पैल डाले। आस्ट्रेलिया ने (पहली पारी में) अच्छी बल्लेबाजी की थी, इसलिए हमें कड़ी मेहनत करनी थी।”

दिन का खेल खत्म होने तक भारत ने बिना किसी विकेट खोए 19 रन बना लिए हैं। वह श्रृंखला पर कब्जा जमाने से 87 रन दूर है। स्टम्प्स तक मुरली विजय (नाबाद 6) और लोकेश राहुल (नाबाद 13) रन बनाकर क्रीज पर मौजूद हैं।

loading...
शेयर करें