#IPL10 : उनादकत की हैट्रिक ने भेदा हैदराबाद का किला, पुणे को मिली एक और जीत

0

हैदराबाद| गेंदबाजों के संयुक्त प्रदर्शन के बल पर राइजिंग पुणे सुपरजाएंट ने शनिवार को राजीव गांधी अंतर्राष्ट्रीय स्टेडियम में हुए इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 10वें संस्करण के 44वें मैच में सनराइजर्स हैदराबाद को 12 रनों से हरा दिया। पुणे से मिले 149 रनों के सामान्य लक्ष्य का पीछा करते हुए हैदराबाद की टीम निर्धारित 20 ओवरों में नौ विकेट खोकर 136 रन ही बना सकी।

राइजिंग पुणे सुपरजाएंट

राइजिंग पुणे सुपरजाएंट ने हैदराबाद को 12 रनों से हराया

हैदराबाद को आखिरी ओवर में जीत के लिए 13 रनों की दरकार थी और उसके चार विकेट शेष थे। लेकिन आखिरी ओवर लेकर आए पुणे के गेंदबाज जयदेव उनादकट ने हैट्रिक पूरी करते हुए इस ओवर में पुणे को एक भी रन नहीं लेने दिया। उ

नादकट ने आखिरी ओवर में बिपुल शर्मा (8), राशिद खान (3) और भुवनेश्वर कुमार को दूसरी, तीसरी और चौथी गेंद पर पवेलियन भेज अपनी हैट्रिक पूरी की। वह इस आईपीएल में हैट्रिक लेने वाले तीसरे गेंदबाज हैं।

उनादकट ने चार ओवरों के अपने कोटे से 30 रन देकर पांच विकेट चटकाए, जबकि बेन स्टोक्स ने इतने ही ओवर में 30 रन देकर तीन विकेट हासिल किए।

हैदराबाद के लिए कप्तान डेविड वार्नर (40) और युवराज सिंह (47) ही उपयोगी पारियां खेल सके। दोनों के अलावा दहाई का आंकड़ा पार करने वाले शिखर धवन ने 19 रनों की पारी खेली। हैदराबाद का शेष कोई भी बल्लेबाज दहाई तक भी नहीं पहुंच सका।

लक्ष्य का पीछा करने उतरी हैदराबाद की टीम की शुरूआत खराब रही और उसने 29 रनों पर ही अपने दो विकेट खो दिए। धवन और केन विलियमसन (4) पवेलियन लौट चुके थे।

यहां से वार्नर ने तीसरे विकेट के लिए युवराज सिंह के साथ 54 रनों की साझेदारी करते हुए टीम को संभाला। लेकिन बेन स्टोक्स ने वार्नर को आउट कर इस साझेदारी को तोड़ा। वह 83 के कुल स्कोर पर आउट हुए। मोएजिज हेनरिक्स चार रनों का योगदान ही दे सके और इमरान ताहिर का शिकार बने।

खतरनाक दिख रहे युवराज को उनादकट ने राहुल त्रिपाठी के हाथों कैच करा कर पवेलियन भेजा। युवराज सिंह 18वें ओवर की पहली गेंद पर पवेलियन लौटे।उन्होंने 43 गेंदों का सामना करते हुए चार चौके और दो छक्के लगाए। युवराज सिंह जब आउट हुए थे तब टीम को जीत के लिए 32 रनों की दरकार थी। 18वें ओवर में मेजबान टीम ने कुल 10 रन बटोरे ।19वें ओवर में स्टोक्स ने नौ रन दिए।

आखिरी ओवर में हैदराबाद को 13 रन चाहिए थे लेकिन उनादकट ने उसे जरूरी रन नहीं बनाने दिए और पुणे को जीत दिलाई।

17 ओवरों में चार विकेट पर 117 रन बनाने वाली हैदराबाद की टीम आखिरी के तीन ओवरों में सिर्फ 19 रन जोड़ सकी और पांच विकेट गंवाए।

इससे पहले, टॉस हारकर बल्लेबाजी करने उतरी पुणे ने कप्तान स्टीवन स्मिथ (34), स्टोक्स (39) और महेंद्र सिंह धौनी के बूते आठ विकेट पर 148 रनों का स्कोर खड़ा किया था। खराब शुरूआत के बाद उसके लिए यह स्कोर भी मुश्किल लग रहा था लेकिन अंत में महेंद्र सिंह धौनी द्वारा 21 गेंदों में दो छक्के और दो चौकों की मदद से खेली गई 31 रनों की पारी के दम पर इस स्कोर तक पहुंचने में सफल रही।

बल्लेबाजी का आमंत्रण मिलने पर पहली पारी खेलने उतरी पुणे की शुरूआत धीमी रही। पिछले मैच के हीरो राहुल त्रिपाठी (1) दूसरे ओवर में छह के कुल स्कोर पर रन आउट हो गए।

मेजबान टीम के गेंदबाजों ने यहां से अजिंक्य रहाणे (22) स्मिथ को हाथ खोलने के ज्यादा मौके नहीं दिए। पुणे के 50 रन 58 गेंदों में पूरे हुए। इससे पहले रहाणे, बिपुल शर्मा का शिकार हो कर पवेलियन लौट चुके थे। यहां से पुणे ने रनगति में थोड़ा इजाफा किया और अगली 32 गेंदों में 50 रन जोड़ते हुए 15वें ओवर में 100 का आंकड़ा छुआ। लेकिन इससे पहले 99 के कुल स्कोर पर पुणे ने बेन स्टोक्स का अहम विकेट खो दिया था।

स्टोक्स ने 25 गेंदों में तीन छक्के और एक चौके की मदद से 39 रन बनाए। स्टोक्स के जाने के दो रन बाद ही कौल ने स्मिथ को आउट किया। डेनियल क्रिस्टियन और मनोज तिवारी क्रमश: चार और नौ रनों का योगदान ही दे सके।

कौल ने आखिरी ओवर में धौनी और शार्दुल ठाकुर को पवेलियन भेजा। कौल के अलावा राशिद खान और बिपुल को एक-एक सफलता मिली। दो बल्लेबाज रन आउट हुए।

इस जीत के साथ पुणे अंकतालिका में 16 अंकों के साथ दूसरे स्थान पर पहुंच गई, जबकि हैदराबाद चौथे पायदान पर फिसल गई। हैदराबाद के 13 अंक हैं जबकि कोलकाता नाइट राइर्ड्स के 14 अंक हैं। मुम्बई 16 अंक और बेहतर नेट रन रेट के आधार पर पहले स्थान पर है।

loading...
शेयर करें