इस कदर छाया सेल्फी का क्रेज कि पत्थर रखकर रोक दी राजधानी

0

आगरा। यूपी में पहली बार तीन नाबालिग लड़को को टुंडला के पास सेल्फी लेने के लिए गिरफ्तार किया गया। घटना का पता तब चला जब पटना-नई दिल्ली राजधानी एक्सप्रेस के लोको पायलट ने तीन लड़कों को पटरियों पर खड़े होकर सेल्फी लेते हुए देखा।

जहां से इन तीनों लड़को को जुवेनाइल कोर्ट भेजा गया है। वहीं रेलवे अधिकारियों का कहना है कि इन लड़को ने जहां अपना जीवन खतरे में डाला वहीं राजधानी में सवार यात्रियों और रेलवे स्टाफ की जान को भी खतरा पैदा करने की कोशिश की।

2016-05-25-PHOTO-00000171

ये है पूरा मामला

बीते दिन तीन नाबालिग लड़के हिमांशु कुमार (16), विशाल पमनानी (14) व तरुन बजाज (13) टूण्डला-मितावली स्टेशन के मध्य रेलवे ट्रैक पर सेल्फी खींच रहे थे। बताया जा रहा है कि तीनों लड़के आपस में चचेरे भाई है। इसी दौरान उसी ट्रैक पर आ रही राजधानी ट्रेन के लोको पायलट की निगाह इन लड़को पर पड़ी और उसने तत्काल ब्रेक लगा कर ट्रेन खड़ी कर दी।

ट्रेन के लोको पायलट की सूझबूझ की वजह से जहां इन तीनों लड़को की जान बची वहीं दूसरी ओर ट्रेन में सवार सैकड़ो यात्री भी दुर्घटनाग्रस्त होने से बच गए।

की गई पूछताछ

पक़ड़े गए तीनों लड़को से पूछताछ करने पर पता चला कि ले तीनों फोटोग्राफी करने के लिए ट्रैक पर आये थे। हिमांशु ने बताया की वो ट्रैक पर गिट्टी रखकर ट्रेन से कुचल जाने के बाद गिट्टी के पाउडर बन जाने की तस्वीर लेना चाहते थे।

रेलवे सुरक्षा बल के टुंडला स्टेशन अधिकारी आनंद कुमार ने बताया कि ट्रेन के लोको पायलट की सतर्कता से एक बड़ा हादसा होने से बच गया क्योंकि इन लड़को ने सेल्फी लेने के साथ-साथ ट्रैक पर एक पत्थर का टुकड़ा भी रखा था जिस वजह से राजधानी दुर्घटनाग्रस्त भी हो सकती थी।

आरपीएफ के अनुसार, तीनों लड़को के खिलाफ रेल अधिनियम की धारा 154 (चूक से रेल से यात्रा व्यक्तियों की सुरक्षा को खतरे में डालना ) के तहत मामला दर्ज किया गया। लड़को के पास से तीन मोबाइल, एक डीएसएलआर कैमरा और एक मारुति कार बरामद हुई है।

उन्होंने बताया कि लड़को के कारण, राजेंद्र नगर पटना-नई दिल्ली राजधानी एक्सप्रेस को टुंडला जंक्शन के पास अचानक रोकना पड़ा जिसकी वजह से ट्रेन 15 मिनट की देरी से चली। हालांकि राजधानी का कानपुर सेंट्रल स्टेशन और नई दिल्ली के बीच कोई भी स्टॉपेज नहीं है। इसके बाद उन्होंने आरएफपी को लड़को को गिरफ्तार करने के लिए भेजा गया।

loading...
शेयर करें