भोपाल में राजस्व मंत्री ने अस्पताल के बाहर चौपाल लगाकर सुनी मरीजों की समस्याएं

0

भोपाल। मध्यप्रदेश के सरकारी अस्पतालों की अव्यवस्थाएं किसी से छुपी नहीं है, राज्य के राजस्व मंत्री उमाशंकर गुप्ता ने हालात से वाकिफ होने के लिए सोमवार को खुद राजधानी के काटजू अस्पताल के बाहर चौपाल लगाई और मरीजों की समस्याएं सुनीं। राज्य में संभवत: यह पहला मौका होगा, जब किसी मंत्री ने सरकारी अस्पतालों के हालात जानने के लिए चौपाल लगाई हो।

राजस्व मंत्री उमाशंकर गुप्ता

राजस्व मंत्री उमाशंकर गुप्ता ने कहा- अस्पतालों की स्थिति जानना मेरे लिए जरूरी

गुप्ता ने संवाददाताओं से चर्चा करते हुए कहा, “उनके विधानसभा क्षेत्र में काटजू और जेपी अस्पताल आते हैं। इन अस्पतालों की स्थिति को जानना मेरे लिए जरूरी है। जब विधायक था तब दोनों अस्पताल नियमित रूप से जाता था। अब हर सोमवार को दोनों अस्पताल के बाहर आधा-आधा घंटे बैठूंगा।”

उन्होंने कहा, “अस्पताल में मरीजों को दवाइयां पर्याप्त मिल रही हैं। कोई समस्या है तो उन्हें यहां आने से पता चलेगी और उन्हें दुरुस्त किया जाएगा।” मंत्री ने कहा कि वह अस्पताल के बाहर इसलिए बैठे हैं, ताकि किसी तरह का व्यवधान न हो।

अस्पताल पहुंचे कई मरीजों ने अपनी समस्याएं मंत्री को बताईं। इस पर मंत्री ने कई डॉक्टरों से पूछताछ भी की। मंत्री का मानना है कि उनके नियमित आने से व्यवस्थाओं में सुधार होगा।

loading...
शेयर करें