सिर्फ यूपी में ही लाइसेंस की अनिवार्यता क्यों

0

आगरा। देश में सबसे अधिक आलू पैदा करने वाले प्रदेश उत्तर प्रदेश में कोल्ड स्टोरेज के लिए लाइसेंस का हर वर्ष नवीनीकरण कराने की अनिवार्यता खत्म होनी चाहिए। साथ ही कीसानों के हित को ध्यान में रखते हुए आलू पर मंडी समिति कर भी समाप्त करे प्रदेश सरकार। यह मांग व्यापारियों ने फैडरेशन ऑफ कोल्ड स्टोरेज एसोसिएशन ऑफ इंडिया की ऑल इंडिया कोल्ड चेन सेमिनार-2016 में मुख्य अतिथि राज्य मंत्री रामसकल गुर्जर के समक्ष उठाई।

राज्य मंत्री रामसकल गुर्जर

राज्य मंत्री रामसकल गुर्जर मुख्य अतिथि

कार्यशाला में मौजूद अन्य प्रांतों (गुजरात, मप्र, पशिचम बंगाल आदि) के प्रतिनिधियों ने जानकारी दी कि उनके प्रदेश में कोल्ड के लिए वन टाइम लाइसेंस का नियम है। इसके विपरीत उप्र जहां देश का लगभग 50 फीसदी आलू पैदा होता है, वहां कोल्ट स्वामियों को हर साल नवीनीकरण के झमेले के गुजरना पड़ता है।  दिल्ली में लाइसेंस की अनिवार्यता खत्म होने के बाद से कोल्ड की संख्या 40 से बढ़कर 140 हो गई है। जहां उच्च स्तरीय तकनीक का प्रयोग किया जा रहा है। इसके साथ आलू पर मंडी समिति शुल्क की वजह से 15-20 रुपए किसान को अतिरिक्त देना पड़ता है। इसको भी समाप्त किया जाए। व्यापारियों की मांग पर रामसकल गुर्जर ने उनकी मांग को प्रदेश मुखिया तक पहुंचाने का आश्वासन दिया।

इस मौके पर मौजूद हिन्दुस्तान समाचार पत्र के प्रधान सम्पादक शशि शेखर ने कहा कि किसान कभी हार नहीं मानता। वह प्रकृति के बेटे हैं और उसी से लड़ते व जूझते हैं। लेकिन यह दुर्भाग्य है कि हमने सिर्फ उन्हें जूझने के लिए छोड़ दिया। किसान हमारा पेट भरकर अपने पेट पर पट्टी बांधता है। उन्होंने कहा कि व्यापारी ही देश के आगे बढ़ानने और एक रखने की शक्ति रखते हैं। दुनिया को व्यापारी चला रहे हैं और व्यापारी ही बदलाव लाने की शक्ति रखते हैं। इस मौके पर शशि सेखर को फैडरेशन की ओर से पत्रकारिता के क्षेत्र में लाइफ टाइम अटीवमेंट के अवार्ड से नवाजा गया।

कार्यशाला का शुभारम्भ अतिथियों ने दीप जलाकर किया। अतिथियों का स्वागत फैडरेशन के रा,ट्रीय सचिव राजेश गोयल ने किया। इस अवसर पर मुख्य रूप से एनसीसीडी के पवनेश कोहली, अतुल खन्ना, मुम्बई से लाल जी साल्वा, बंगाल से गुब्बा राव, गुजरात से आशीष गुरू, मप्र से हंसमुख गांधी, दिल्ली से मुकेश अग्रवाल, अनूप सिंह, प्रीकाश राम सिंह के अतिरक्त मोहित अग्रवाल, भुवनेश अग्रवाल, अजय गुप्ता, रावी इवेन्ट के मनीष अग्रवाल आदि उपस्थित थे।

आलू की अच्छी कीमत बढ़ा देती है बाजारों की रौनक-रामसकल

जिस वर्ष आलू की कीमत अच्छी हो उस वर्ष बाजारों की रौनक भी बढ़ जाती है। क्योंकि उस साल किसानों के घर में शादी ब्याह और उत्सव होते हैं। सही मायने में किसान के घर की खुशियां फसल पर ही निर्भर हैं। यह कहना था राज्य मंत्री रामसकल गुर्र का। वह होटल क्लार्क-शीराज में फैडरेशन ऑफ कोल्ड स्टोरेज एसोसिएशन ऑफ इंडिया की ऑल इंडिया कोल्ड चेन सेमिनार-2016 में मुख्य अतिथि के रूप में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि कोल्ड स्टोर का व्यवसाय जन मानस के जुड़ा व्यवसाय है। प्रदेश सरकार ने विशेषतौर पर खेती व किसानों की समस्या को ध्याम में रखते हुए बिजली व सड़कों को दुरस्त कराया है।

 

 

loading...
शेयर करें