फंडिंग घोटाले में मैक्रों के 2 और सहयोगियों ने मंत्री पद से इस्तीफा दिया

0

पेरिस। फ्रांस के राष्ट्रपति इमानुएल मैक्रों के मंत्रिमंडल के दो और मंत्रियों ने यूरोपीय संसद के फंड के कथित दुरुपयोग की जारी जांच के बाद बुधवार को इस्तीफा दे दिया। समाचार एजेंसी एफे न्यूज की एक रिपोर्ट के मुताबिक, डेमोक्रेटिक मूवमेंट (मोदेम) पार्टी के फ्रांस्वा बायरू तथा मारियेल दे सारनेज ने क्रमश: न्याय मंत्री तथा यूरोपीस मामलों के मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया। इससे पहले मंगलवार को रक्षा मंत्री सिलवी गोलार्ड ने इस्तीफा दे दिया था।

राष्ट्रपति इमानुएल मैक्रों

सरकार के प्रवक्ता क्रिस्टोफर कास्टानेर ने यूरोप 1 रेडियो से कहा कि बायरू का फैसला व्यक्तिगत है और इसे राष्ट्रपति मैक्रों के लिए हालात को आसान करने वाला कदम करार दिया। बीबीसी के मुताबिक, बायरू का इस्तीफा राष्ट्रपति इमानुएल मैक्रों द्वारा मंत्रिमंडल में फेरबदल के कुछ घंटों बाद सामने आया है। बायरू की मध्यमार्गी पार्टी मोदेम, राष्ट्रपति मैक्रों की ला रिपब्लिक ए मार्च पार्टी की सहयोगी पार्टी है। पार्टी पर आरोप है कि उसने यूरोपीय संघ के कोष का इस्तेमाल पार्टी कार्यकर्ताओं को भुगतान के लिए किया, जिसके लिए उसके खिलाफ जांच चल रही है।

आरोपों के बाद 24 घंटे के भीतर मोदेम पार्टी को मैक्रों के मंत्रिमंडल में मौजूद सभी सभी तीन पदों से हाथ धोना पड़ा। रक्षा मंत्री तथा यूरोपीय संसद के पूर्व सदस्य सिल्वी गोलार्ड मोदेम पार्टी की पहले मंत्री हैं, जिन्होंने मंगलवार को सबसे पहले इस्तीफा दिया। रपट के मुताबिक, इसके बाद बायरू ने कहा कि वह इस्तीफा दे रहे हैं। यह स्पष्ट हो गया है कि यूरोपीय मामलों के मंत्री मारिले डी सारनेज भी मंत्री पद से इस्तीफा दे रहे हैं और नेशनल एसेंबली में मोदेम का अध्यक्ष पद संभालेंगे।

मैक्रों के निकट सहयोगी रिचर्ड फेरांद ने भी सोमवार को अपने पद से इस्तीफा दे दिया। उन पर आरोप है कि उन्होंने म्युचुअल हेल्थ इंश्योरेंस फंड का अध्यक्ष रहते हुए अपनी पत्नी के लिए एक संपत्ति लेने के लिए सरकारी सूचनाओं का इस्तेमाल किया। फेरांद तथा गोलार्ड ने किसी भी गलत कार्य से इनकार किया है। बायरू ने कहा है कि वह शाम पांच बजे प्रेस वार्ता करेंगे।

loading...
शेयर करें