आडवाणी नहीं, ये बड़ा नेता हो सकता है देश का अगला राष्टपति!

0

नई दिल्‍ली। इसी साल देश में राष्ट्रपति चुनाव होने हैं। जिसकी तैयरियां जोरो-शोरों से चल रही हैं। विपक्ष ने भी कमर कस ली है। हर कोई अपने नेता को इस चुनाव में विजय करवाना चाहता है। वहीं, मोदी सरकार अपनी जीत का सिलसिला यहां भी जारी रखना चाहती है। राष्ट्रपति के लिए कई नाम सामने आ चुके हैं। अब इस लिस्ट में आरएसएस के दो नेताओं के नाम सामने आ रहे हैं।

राष्ट्रपति चुनाव

राष्ट्रपति चुनाव को लेकर कई नामों पर चर्चा चल रही है

खबरों के मुताबिक, बीजेपी राष्‍ट्रपति चुनाव में आरएसएस के दो बड़े नेताओं के नाम पर विचार कर रही है। हालांकि, इनमें से एक ने अपना नाम पहले ही रेस से बाहर बताया था। दरअसल, बीजेपी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष अमित शाह और देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत को राष्‍ट्रपति पद का उम्‍मीदवार बनाना चाहते हैं। कुछ समय पहले भी कुछ इसी तरह की खबरें सामने आई थीं। लेकिन उस समय मोहन भागवत ने अपना नाम रेस से बाहर बताया था। इससे पहले लाल कृष्ण आडवाणी का नाम भी सामने आ रहा था, लेकिन बाबरी मस्जिद मामले में उनका नाम आने के बाद इसपर भी फिलहाल अभी विराम लग लगा है।

अभी तक किसी भी नाम पर मुहर नहीं लग सकी है

अब एक बार फिर से उनके नाम पर विचार किया जा रहा है। वहीं, दूसरी ओर राष्‍ट्रपति पद के लिए विश्‍व हिन्‍दू परिषद के अध्‍यक्ष प्रवीण तोगडिया का नाम भी सामने आया है। सूत्रों के मुताबिक, अगर मोहन भागवत के नाम पर सहमति नहीं बन पाती है तो तोगडिया के नाम पर विचार किया जाएगा। बीजेपी सूत्रों के अनुसार, इस संबंध में दोनों नेताओं से बातचीत चल रही है। वहीं, दूसरी ओर विपक्ष भी अपनी तैयारियों में पूरी तरह से लगा हुआ है। विपक्ष की ओर से भी कई नाम सामने आ चुके हैं। हालांकि अभी तक किसी भी नाम पर मुहर नहीं लग सकी है।

विपक्ष भी कर रहा तैयारियां

बता दें इससे पहले महाराष्ट्र की पार्टी एनसीपी के प्रमुख शरद पवार का नाम भी राष्ट्रपति पद के लिए सामने आया था। दिनों शिवसेना ने शरद पवार को सर्वसम्मत उम्मीदवार के रूप में पेश करने की बात कही थी। वहीं, खबरों के मुताबिक यह जानकारी भी सामने आ रही है कि विपक्षी दलों की तरफ से साझा उम्मीदवार की घोषणा करने को लेकर दो नामों पर विचार किया जा रहा था। इनमें से एक था महात्मा गांधी के पोते गोपाल कृष्ण गांधी और दूसरा था पूर्व लोकसभा स्पीकर मीरा कुमार का, लेकिन कई विपक्षी दल कांग्रेस के नेता को उम्मीदवार बनाए जाने के पक्ष में नहीं हैं।

loading...
शेयर करें