राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने गज तूफान से हुए नुक्शान की ली जानकारी, जताया दु:ख

नई दिल्ली। देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद भले ही दूसरे देश के दौरे पर है, लेकिन उनका दिल औऱ दिमाक भारत में ही रखा हुआ है। राष्ट्रपति ने सोमवार को तमिलनाडु में चक्रवाती तूफान ‘गज’ से हुए नुकसान के बाद स्थिति की जानकारी के लिए मुख्यमंत्री के. पलनीस्वामी से बातचीत की। तूफान में 45 लोग मारे गए हैं।

वियतनाम और आस्ट्रेलिया के एक हफ्ते लंबे दौरे पर गए राष्ट्रपति ने ट्वीट कर कहा कि मुख्यमंत्री से बातचीत की और चक्रवाती तूफान गज से हुए नुकसान के बाद स्थिति की जानकारी ली। शोक संतप्त परिवारों के प्रति संवदेना प्रकट की।

भारत सरकार और यहां के लोग दुख की इस घड़ी में राज्य के उन लोगों के साथ खड़े हैं जिन्हें आपदा की वजह से दुख का सामना करना पड़ा। पलनीस्वामी ने रविवार को सलेम में पत्रकारों से कहा था कि चक्रवती तूफान में 45 लोग मारे गए और 117,624 घर क्षतिग्रस्त हो गए। उन्होंने साथ ही कहा कि तूफान में 88,102 हेक्टेयर की फसल और 39,938 बिजली के खंभे क्षतिग्रस्त हो गए। तमिलनाडु के तटीय जिलों नागापट्टिनम और वेदारानयम को पार करने के बाद चक्रवाती तूफान गज ने तंजावुर, थिरुवर, कुड्डालोर, पुडुकोट्टाई और रामनाथपुरम जिलों में तबाही मचाई।

Related Articles