झूठ बोल रहे हैं राहुल, सदन में बोलने का उन्हें पूरा मौका मिला : अनंत कुमार

0

नई दिल्ली| संसदीय कार्यमंत्री एच. एन. अनंत कुमार ने बुधवार को इस बात पर आश्चर्य व्यक्त किया कि राहुल गांधी यह किस तरह से दावा कर सकते हैं कि उन्हें लोकसभा में बोलने की इजाजत नहीं दी गई। जबकि, उन्होंने इस सिलसिले में एक भी नोटिस ही नहीं दिया है। अनंत कुमार ने सवाल किया, “पूरे सत्र में राहुल गांधी के नाम से एक नोटिस तक नहीं है। वह यह कैसे कह सकते हैं कि उन्हें बोलने की इजाजत नहीं दी गई?”

राहुल गांधी

राहुल गांधी का आरोप, सदन में पीएम मोदी के खिलाफ बोलने की इजाजत नहीं 

नियमों के मुताबिक दोनों सदनों की मेज पर हर सुबह नोटिस जमा किए जाते हैं जिसमें आसन से विभिन्न नियमों के तहत विभिन्न मुद्दे उठाने के लिए सवाल पूछे जाते हैं।

कुमार की टिप्पणी तब आई है जब कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने एक संक्षिप्त संवाददाता सम्मेलन में आरोप लगाया कि उनके पास प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भ्रष्टाचार में लिप्त होने के सबूत हैं और उन्होंने कहा कि उन्हें लोकसभा में बोलने की इजाजत नहीं दी जा रही है।

कुमार ने कहा कि यदि राहुल गांधी के पास कुछ ऐसा था जिसका खुलासा करने पर धरती हिल जाती तो वह 16 नवंबर को कर सकते थे। यदि वह ऐसा कुछ है जो केवल सदन में ही कहा जा सकता है तो आपको केवल लोकसभा अध्यक्ष की इजाजत लेने की जरूरत है।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस और कुछ अन्य दल बहुमत पक्ष के सदस्यों को बोलने में बाधा डाल रहे हैं। लगभग तीन चौथाई सदस्य चाहते हैं कि सदन काम करे। ये सदस्य भी सही तरीके से चुन कर आए हैं। इन सदस्यों ने अगस्ता वेस्टलैंड पर बुधवार को बोलने के लिए नोटिस दिया था।

उन्होंने यह भी कहा कि कांग्रेस को सबसे पहले स्टिंग आपरेशन के बारे में बताना चाहिए जिसमें उसके नेताओं को अवैध तरीके से 500 और 1000 रुपये के बंद नोट को बदलने में संलिप्त दिखाया गया है। कुमार ने विपक्ष के नेताओं को अपंगता के शिकार लोगों के अधिकारों से जुड़े वर्ष 2014 से लंबित विधेयक को पारित करने में सहयोग करने के लिए धन्यवाद भी दिया।

loading...
शेयर करें