मोदी लहर पर भारी पड़ेगी राहुल गांधी की आंधी…ये हैं कांग्रेस के मेन हथियार

बेंगलुरु: कर्नाटक में चुनावी महासंग्राम का बिगुल बज चुका है। सभी राजनीतिक दल इस महासंग्राम में अपने-अपने धुरंधर सिपहसलारों के साथ रणनीति बनाने में जुटे हैं। लेकिन जिस जंग पर पूरे देश के लोगों की निगाह टिकी हुई है वह कांग्रेस और भाजपा के बीच में है। दरअसल, इस चुनाव के नतीजे को अगले वर्ष होने वाले लोकसभा चुनाव से भी जोड़कर देखा जा रहा है जिसमें असली मुकाबला प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के बीच होना है। इस चुनाव में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी जिस तरह से भाजपा और पीएम मोदी के खिलाफ आक्रामक रुख दिखा रहे हैं, उसने भाजपा के माथे पर चिंता की लकीरे जरूर ला दी हैं।

जी हां, कर्नाटक चुनाव में राहुल गांधी एक अलग से आक्रामक रुख में दिखाई दे रहे हैं। सोशल मीडिया से लेकर राजनीतिक मंचों तक राहुल गांधी द्वारा पीएम मोदी के खिलाफ किये गए हमलों की चर्चा हो रही है। वादाखिलाफी से लेकर किसानों तक के मुद्दे उठाकर राहुल गांधी जिस तरह से पीएम मोदी पर एक के बाद एक वार कर रहे हैं, उससे भाजपा में हाहाकार मचा हुआ है। क्योंकि ये वही मुद्दे हैं जो देश को भाजपा की खिलाफ बता रहे हैं।

जिस तरह से अभी तक भाजपा और खुद पीएम मोदी ने कांग्रेस अध्यक्ष की राजनीतिक समझ को लेकर सवाल खड़े कर रखे थे, राहुल गांधी ने अपने आक्रामक रवैये से उन सभी सवालों को मुंहतोड़ जवाब दिया है। आइये उन मुद्दों पर एक नजर डालते हैं जिनके दम पर राहुल कांग्रेस के कर्नाटक गढ़ को बचाना चाह रहे है।

कर्नाटक चुनाव में राहुल युवाओं के रोजगार से लेकर महिलाओं की सुरक्षा तक के मुद्दों को हथियार बनाकर भाजपा के खिलाफ इस जंग में जीत हासिल करना चाह रहे हैं। इस चुनाव में राहुल गांधी इन चार मुद्दों पर चुनाव लड़ रहे हैं।

-देश के युवाओं की सबसे बड़ी जरूरत रोजगार का मुद्दा उठाकर राहुल कर्नाटक के युवा वोट बैंक को मजबूत करने की कवायद में जुटे हैं।
-महिलाओं की सुरक्षा के मुद्दे को उठाते हुए राहुल गांधी ने सूबे की महिलाओं को भी अपने पक्ष में करने की कोशिश की है।
-मोदी सरकार के खिलाफ जिस तरह से देशभर के किसानों में रोष नजर आ रहा है, राहुल गांधी ने इस मौके को भुनाने का मौका भी नहीं छोड़ा है।
-अभी हाल ही में एससी/एसटी एक्ट को लेकर सुप्रीम कोर्ट द्वारा सुनाए गए गए फैसले के बाद देश दलित और अनुसूचित वर्ग में इन दिनों मोदी सरकार के खिलाफ गुस्सा देखने को मिला है, इसको लेकर भी राहुल गांधी ने कांग्रेस का जाल बिछा रखा है।

Related Articles