राहुल गांधी बन गए सिंघम, ओवैसी पैरों के नीचे !

0

गोरखपुर। कांग्रेस पार्टी के युवा चेहरे राहुल गांधी की खुशामद में कांग्रेस के कुछ स्थानीय नेताओं ने गजब कर दिया। वे रविवार को महानगर की सड़कों पर एक ऐसे विवादास्पद पोस्टर के साथ नजर आए जिसमें राहुल गांधी को तो सिंघम बताया गया है वहीं मुस्लिम समुदाय के उभरते हुए नेता असदुद्दीन ओवैसी को उनके चरणों में हाथ जोड़े दिखाया गया है। वैसे इस पोस्टर पर केशव प्रसाद मौर्य, अखिलेश यादव और मायावती भी हैं लेकिन उन्हें राहुल गांधी के समानांतर प्रदर्शित करते हुए उनकी कमियों के बारे में बताया गया है।

 

राहुल गांधी

गोरखपुर शहर में कांग्रेस के युवा चेहरा हैं अनवर हुसैन। अनवर महानगर में पार्टी की गतिविधियों को लेकर निरंतर सक्रिय रहने वाले नेता हैं। लेकिन इस बात उन्होंने एक नये विवाद को जन्म देने वाला पोस्टर प्रदर्शित किया है। अनवर समेत कुल नौ कांग्रेसी शहर की सड़क पर जिस पोस्टर को लेकर उतरे उसे देखकर हर कोई सन्न रह गया। पोस्टर में ओवैसी राहुल के चरणों में हैं और उनके ठीक बगल में स्लोगन लिखा है-माफ कर दीजिये सर, अब ऐसी गलती नहीं होगी।

अन्य पार्टियों पर निशाना

पोस्टर के जरिए बताया गया है कि 2017 में राहुल गांधी सिंघम की तरह आएंगे। उनके आने से सुशासन भी अपने आप आएगा। वहीं यूपी के सीएम अखिलेश यादव पर आरोप है कि उनकी सरकार दंगाइयों और बाहुबलियों की सरपरस्त है। बसपा सुप्रीमों मायावती पर आरोप है कि वह घोटाला और भ्रष्टाचार की चेहरा हैं। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य को दंगाई और आपराधिक किस्म का बताया गया है।

ओवैसी पर आरोप

एएमआईएम के मुखिया असदुद्दीन ओवैसी पर इस पोस्टर में दोतरफा निशाना है। एक तरफ तो उन्हें सिंघम बने राहुल के कदमों में रखा गया है तो दूसरी ओर उन पर नफरत फैलाने का आरोप है। मजहबी नजरिये से भी ओवैसी का यह पोस्चर काफी विवादास्पद है क्योंकि इस्लाम में सिर्फ खुदा के सामने सिजदे का रिवाज है।

loading...
शेयर करें