रिलायंस इंफ्रा को 711 करोड़ की राजमार्ग परियोजना का ठेका

0

मुंबई।  रिलायंस इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड को भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) की तरफ से तमिलनाडु में एनएच-45सी के विक्कारावांडी से सेथीयाहोपू खंड के निर्माण का ठेका मिला है जिसकी लागत 711 करोड़ रुपये है। कंपनी ने एक बयान में कहा, “यह परियोजना राष्ट्रीय राजमार्ग विकास कार्यक्रम (चरण 4) के भारत सरकार के प्रमुख कार्यक्रम के अधीन है और इसे एनएचएआई द्वारा वित्त पोषित किया गया है।”

रिलायंस इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड

रिलायंस इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड को भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग का मिला ठेका

यह परियोजना 24 महीनों की निर्माण अवधि के भीतर पूरी की जानी है।इस परियोजना में बड़े और छोटे पुल, रेलवे ओवरब्रिज, फ्लाइओवर, बायपास और टोल प्लाजा सहित 65.96 किलोमीटर लंबे राजमार्ग का डिजाइन और निर्माण शामिल हैं। परियोजना के लिए रखरखाव की अवधि चार साल है।

इस परियोजना के लिए अन्य बोली लगाने वालों में एलएंडटी, आईएलएंडएफएस और पुंज लॉयड भी थे। लेकिन, रिलायंस इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड ने ‘इंजीनियरिंग, प्रोक्योरमेंट एंड कंस्ट्रक्शन (ईपीसी)’ के आधार पर सबसे कम, 711 करोड़ रुपये में इसे बनाने की बोली लगाकर इसका करार हासिल किया।

रिलायंस इंफ्रा के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अरुण गुप्ता ने एक बयान में कहा, “ईपीसी पर जोर दिए जाने का परिणाम दिखाना शुरू हो गया है। एनएलसी इंडिया लिमिटेड से 3,675 करोड़ रुपये का ईपीसी आर्डर हासिल करने के बाद इस परियोजना में जीत हासिल हुई है। एनएलसी परियोजना के तहत 250 मेगावॉट क्षमता वाले दो लिग्नाइट आधारित सीएफबीसी थर्मल पावर प्रोजेक्ट स्थापित किए जाने हैं।”रिलायंस समूह की कंपनी ने ईपीसी कारोबार को पुनर्जीवित करने की रणनीति तैयार की है, जिसके तहत वित्त वर्ष 2019 तक 50,000 करोड़ रुपये का ऑर्डर बुक करने का लक्ष्य रखा गया है।

loading...
शेयर करें