रेपिस्ट बना दिया मरे हुए बच्‍चे को

रेपिस्‍ट। यह शब्‍द सिर्फ गुस्‍सा पैदा करता है। लेकिन फ्रांस की पत्रिका शार्ली एब्‍दो ने एक मरे हुए बच्‍चे को रेपिस्‍ट बता दिया। पिछले साल समुद्र में नौका डूबने से हुई 3 वर्षीय एलन कुर्दी की मौत के बाद शव की तस्वीर रिफ्यूजी संकट का चेहरा बन गई थी. एलन की तस्वीर ने दुनिया को सदमें में डाल दिया था. मगर अब फ्रांस की पत्रिका शार्ली एब्दो ने एक कार्टून के जरिए एलन कुर्दी को भावी रेपिस्‍ट के तौर पर पेश किया है.

रेपिस्ट

रेपिस्ट बताने पर हो रहा विरोध

शार्ली एब्दो ने एलन का एक कार्टून छापा है जिसमें एलन को एक ऐसे व्यक्ति को तौर पर दिखाया गया है जो एक महिला का पीछा करता है और कहता है कि अगर छोटा एलन बड़ा हो जाए तो वह क्या बनेगा? इसे देखकर लग रहा है कि बच्‍चा एक रेपिस्‍ट है। सोशल नेटवर्किंग साइट पर शार्ली एब्दो के इस कार्टून की कड़ी आलोचना हो रही है. वहीं पत्रिका ने इस बारे में कुछ भी कहने से इनकार किया है. बच्‍चे को रेपिस्‍ट बताने पर दुनिया भर में पत्रिका का विरोध हो रहा है।

कार्टून अमानवीय और अनैतिक

मरे बच्‍चे को रेपिस्‍ट बनाने पर उसके पिता अब्दुल्ला कुर्दी ने कहा की जब उन्होंने अपने बच्‍चे की यह तस्वीर देखी तो वे रो पड़े. उनका परिवार अब भी सदमे में है. एक लिखित बयान में उन्होंने यह भी कहा कि फ्रांसीसी व्यंग्य पत्रिका शार्ली एब्दो में प्रकाशित यह कार्टून ‘अमानवीय और अनैतिक’ है. बच्‍चे को रेपिस्‍ट बताने पर उन्होंने कहा कि यह उतना ही बुरा है जितना कि किसी ‘युद्ध अपराधी और आतंकवादी’ की गतिविधि.

बता दें कि अब्दुल्ला के तीन वर्षीय बेटे एलन का शव यूनान से बहकर तुर्की के तट पर आया था. औंधे मुंह पड़े मासूम एलन के शव की उदास तस्वीर ने शरणार्थियों की दुर्दशा पर ध्यान आकर्षित किया जो जोखिम उठाकर यूरोप की यात्रा करते हैं. घटना में एलन के चार वर्षीय भाई और उसकी मां की भी मौत हो गई थी।

साभार : Aajtak

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button