लालू प्रसाद यादव ने कहा बड़े काम का है आपका पेशाब

0

पटना अक्‍सर अपने ऊट-पटान बयानों को लेकर चर्चा में रहने वाले आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने मूत्र पर एक नया बयान दिया है। उन्‍होंने डेटॉल की तुलना इंसानी मूत्र से करते हुए कहा कि इंसानी मूत्र डेटॉल से भी अच्छा एंटीसेप्टिक होता है। जिस पर वहां मौजूद लोग खुद को ठहाके लगाने से रोक नहीं पाए। लालू प्रयाद यादव होम्योपैथी डॉक्टर्स के सेमिनार में पहुंचे थे। वहां उन्होंने यह बात कहीं।

लालू प्रसाद यादव

लालू प्रसाद यादव ने अपने बचपन की बातें बताईं

होम्योपैथी साइंस कांग्रेस द्वारा आयोजित एक सेमिनार में लालू ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि  ‘जब हम छोटे थे तो चोट लगने पर तुरंत उस पर अपना यूरिन लगाते थे। यह चोट पर एक एंटीसेप्टिक की तरह काम करता था। आज लोग डेटॉल लगाते हैं। बस यही एक उन्‍नति है जो हमने की है।’ लालू प्रसाद यादव ने एलोपैथी की बजाय होम्‍योपैथी की तारीफ करते हुए उसे कहीं बेहतर बताया।

मूत्र से तुरंत कीटाणू जाते हैं

लालू ने कहा कि बिना किसी दवाई के घाव ठीक करने का ये आसान तरीका था। घाव पर मूत्र गिरने से कोई कीटाणु नहीं रह जाते थे। उन्होंने कहा कि अब लोगों को इस सब के बारे में कुछ पता ही नहीं होगा, लेकिन यह उपाय काफी कारगर था। गाव पर गांठ बनने या परत बनने पर दोबारा यूरीन ही उसे ठीक करता था।

स्‍मार्ट सिटी नहीं स्‍मार्ट गांव चाहिए

लालू प्रसाद यादव ने यहां सरकारी नौकरी में रिटायरमेंट को लेकर भी बात की। उन्‍होंने कहा कि सरकारी नौकरी में रिटायरमेंट की सीमा बढ़ाना गलत है। इससे नए लड़कों को मौका नहीं मिल पाता है। नौकरी की उम्र सीमा सही है। उन्होंने कहा कि स्मार्ट सिटी बिहार को नहीं मिली। हम तो पहले ही कहे थे कि हमें स्मार्ट सिटी नहीं स्मार्ट गांव चाहिए। पीएम ने जिन शहरों को स्मार्ट सिटी का दर्जा देने का निर्णय लिया है।

loading...
शेयर करें