लालू यादव बोले – बिहार जीत आखिरी नहीं, अभी बीजेपी के खिलाफ आगे और लड़ाइयां बाकी

0

पटना लालू यादव नौवीं बार राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के राष्ट्रीय अध्यक्ष की कुर्सी संभालेंगे। राजद के अध्यक्ष लालू यादव ने पार्टी की राष्ट्रीय कार्यसमिति की बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि बिहार विधानसभा चुनाव में मिली जीत अंतिम जीत नहीं है। लालू यादव ने कहा कि अभी आगे और भी लड़ाइयां बाकी हैं, जिसके लिए हमें तैयार रहने की जरूरत है। पटना में आयोजित राजद की राष्ट्रीय कार्यसमिति की बैठक में 21 राज्यों के प्रतिनिधि शामिल हुए। बैठक में सात प्रस्तावों को मंजूरी भी दी गई।

लालू यादव

लालू यादव बोले, गैर बीजेपी दलों को एक करेंगे

बैठक की अध्यक्षता करते हुए लालू प्रसाद ने कहा कि पार्टी अन्य राज्यों में भी गैर भाजपा दलों को एक करेगी। समान विचारधारा वाले दलों को साथ लेने की दिशा में वे खुद पहल करेंगे। लालू ने एकबार फिर जाति आधारित जनगणना की रपट जारी नहीं करने पर केन्द्र सरकार पर निशाना साधते हुए सवालिया लहजे में कहा कि जातिगत जनगणना का सच क्या है? क्यों केंद्रीय योजनाओं में कटौती की जा रही है?”

मनोज झा ने क्‍या बताया

उन्होंने कहा कि गरीबों से जुड़ी योजनाओं में कटौती की जा रही है, जबकि करपोरेट जगत के लिए लाभकारी योजनाएं बनाई जा रही हैं। बैठक के बाद राजद के प्रवक्ता मनोज झा ने संवाददाताओं को बताया कि बैठक में लालू प्रसाद ने बिहार में गठबंधन की सरकार मजबूती से कायम रहने की बात कही। विशेष रूप से उन्होंने केंद्र द्वारा बिहार की हो रही उपेक्षा पर चिंता जताई। पार्टी नेताओं के मुताबिक 26 साल पहले कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री रामकृष्ण हेगड़े द्वारा तैयार जनता दल के संविधान में कई संशोधन किये गये हैं।

आगे भी लड़ाई जारी रहेगी

जिस तरह बिहार की लड़ाई लालू यादव के नेतृत्व में लड़ा गया वैसे ही आगे की लड़ाई भी लड़ी जायेगी और देश भर के समान विचारधारा वाली की पार्टीयो को एक साथ लाने का प्रयास किया जायेगा। झा ने बताया कि बैठक में संविधान संशोधन संबंधी प्रस्ताव, राजनीतिक प्रस्ताव, आर्थिक प्रस्ताव समेत कुल सात प्रस्तावों को स्वीकृति प्रदान की गई। इन प्रस्तावों को रविवार को राष्ट्रीय परिषद की बैठक एवं खुला अधिवेशन में मंजूरी के लिए रखा जाएगा।

loading...
शेयर करें