IPL
IPL

लुटेरे सक्रिय! गोरखपुर में तीन लाख की लूट, दम्पति हत्याकांड का खुलासा

गोरखपुर। जनपद में लुटेरे एक बार फिर सक्रिय हो गये हैं। महज 24 घंटे के भीतर लूट की दो वारदातों ने पुलिस की सक्रियता की पोल खोल दी है। सबसे बड़ी लूट आज सुबह साढ़े दस बजे के आसपास एक कंपनी के कर्मचारी के साथ सहजनवां थानाक्षेत्र में हुई। उधर पुलिस ने इंजीनियर दम्पति हत्या के मामले का खुलासा कर दिया है।

लुटेरे

किशन ब्रिडिंग नामक कंपनी के इस कर्मचारी के साथ तमंचे के बल पर तीन लाख की यह लूट तब हुई जबकि वह पैसे जमा करने सहजनवां स्थित एक निजी और एक सरकारी बैंक में जा रहा था। इससे पहले, 18 जनवरी को सुबह 11 बजे के करीब खोराबार थानाक्षेत्र के रामनगर कड़जहां स्थित एक सरकारी शराब की दुकान के मुनीम से कट्टे के बल पर दो युवकों ने 68 हजार रुपये लूट लिये थे।

loot1

आईजीएल फैक्ट्री मोड़ पर थे लुटेरे

किशन ब्रिडिंग फार्म का कर्मचारी विनय सिंह सहजनवां पैसे जमा करने जा रहा था। आईजीएल फैक्ट्री मोड़ पर तीन बदमाशों ने उसे रोक कर तीन लाख तीस हजार रुपये लूट लिये। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। लुटेरे शातिर हैं और पुलिस को चुनौती दे रहे हैं।

डबल मर्डर और डकैती के सभी आरोपी गिरफ्त में

पुलिस ने चर्चित हाईप्रोफाइल डबल मर्डर मामले में धर्मशाला बाजार क्षेत्र से चौथे आरोपी गोलू को गिरफ्तार कर लिया। उसके पास से पौने चार लाख के जेवर बरामद हुए हैं। एसएसपी लव कुमार ने  बताया कि चारों आरोपियों के पास से अब तक लगभग 15 लाख के जेवर बरामद किये जा चुके हैं। 16 जनवरी को तीसरे अभियुक्त राजीव नाई को गिरफ्तार किया गया था। मुख्य आरोपी पिंटू उर्फ अनवर, उसके मामा महताब और सहयोगी रेहान को पहले ही जेल भेजा जा चुका था। इन लोगों ने विन्ध्यवासिनीनगर में रहने वाले इंजीनियर संजय श्रीवास्तव और उनकी पत्नी तूलिका श्रीवास्तव की हत्या कर घर में लूटपाट की थी।

 

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button