शातिर बदमाशों ने गोली मारकर लूटे 22 लाख

0

प्रतापगढ़। इलाहाबाद पुलिस जोन में आंतक का पर्याय बने इस जिले में अपराध थमने का नाम नहीं ले रहा है। पुलिस की लापरवाही की वजह से जिले में अपराधियों का हौसला बढ़ा हुआ है। अधिकारियों की डांट के बाद पुलिस कुछ दिनों से सक्रियता भरी दिखावा करती है इसके बाद फिर स्थिति जस की तस हो जाती है। जिले में हाल ही में घटी घटना को देखा जा सकता है। अपराधियों ने पुलिस व्यवस्था को चुनौती देते हुई दुस्साहसिक घटना को अंजाम दिया।

लूट

अपराधियों ने एआरटीओं विभाग में कार्यरत कैशियर और सहायक को गोली मारकर 22 लाख रूपये लूट ले गए। कैशियर से लूट की खबर पूरे शहर में जंगल की आग की तरह फैल गई। इस घटना के बाद से लोगों के बीच दहशत भरा माहौल भी देखने को मिल रहा है। जिले के लोग साथ में पैसा लेकर चलने से कतराने लगे हैं। घटना की जानकारी होते ही पुलिस घटना स्थल पर पहुंची। घायल कर्मचारी को पुलिस ने तुरंत इलाज के लिए जिला अस्पताल ले गयी इसके बाद उसे इलाहाबाद के लिए रेफर कर दिया। तहरीर लेने के बाद अधिकारियों के सख्त निर्देश पर पुलिस टीम लूटेरों की गिरफ्तारी के लिए छापामार कार्रवाई में जुटी है।

गाड़ी में बैठने से पहले मारी गोली

एआरटीओ कार्यालय में कैशियर के पद पर तैनात धर्म प्रकाश, विभाग में सफाईकर्मी के पद पर तैनात रज्जनलाल 22 लाखों रुपया बैग में रख कर बैंक में जमा करने के लिए निकले थे। वत्तीय सत्र का आखिरी दिन होने के कारण रुपयों की संख्या अधिक थी। इसकी खबर लूटेरों को पहले से लग गई थी। कैशियर व सफाई कर्मी रुपये से भरा बैग लेकर सीढ़ी से उतरे थे। रुपयों से भरा बैग सफाईकर्मी के हाथों में था। कैशियर अपनी कार पार्किग से निकालने लगा। उसी दौरान दो बदमाश पहुंचकर ताबडतोड़ फांयरिंग करने लगे। एक बदमाश ने सफाईकर्मी को गोली मार दी। गोली उसके सीने में जा धसी जिससे वह गिर पड़ा। बदमाश रुपये से भरा बैग लेकर फरार हो गए। कार्यालय परिसर में गोली की आवाज सुनकर कार्यालय में दहशत फैल गई।

सफाईकर्मी के हाथों में बैग संदेह के घेरे में

विभाग में कर्मचारी की कमी नहीं होने के बावजूद सफाईकर्मी के साथ बैंक जाने की घटना लोगों के गले से नहीं उतर रही है। लोगों का कहना है कि सफाई कर्मी को बलि का बकरा बनाया गया है। इतनी अधिक रकम होने के बावजूद सफाई कर्मी के हाथों मे बैंग शक करने को मजबूर कर रही है। पुलिस सभी बिन्दुओं को ध्यान में रखकर जांच कार्य में जुटी है। सफाई कर्मी और कैशियर दोनो का बयान लिया जा चुका है। फिलहाल अभी तक पुलिस गिरफ्तारी नहीं कर पाई है।

loading...
शेयर करें