वरुण गांधी पर गिरी गाज, बीजेपी ने चुनाव प्रचार की लिस्ट से कर दिया बाहर

0

नई दिल्ली: बीजेपी सांसद वरुण गांधी को पार्टी विरोधी बयानबाजी करना महंगा साबित हुआ है। वरुण गांधी के बाग़ी तेवर अपनाने की वजह से भाजपा ने उनका नाम छठे और सातवें चरण के चुनाव प्रचार के स्टार प्रचारकों की सूची से हटा दिया है। बीजेपी हाई कमान ने सूची में उनकी जगह केन्द्रीय मंत्री मनोज सिन्‍हा का नाम शामिल किया गया है।

वरुण गांधी

वरुण गांधी ने जमकर साधा था भाजपा पर निशाना 

आपको बता दें कि वरुण गांधी ने बीते मंगलवार को इंदौर में एक कार्यक्रम के दौरान मोदी सरकार पर जमकर हल्ला बोला था। उन्होंने कहा कि पिछले साल हैदराबाद में दलित पीएचडी स्टूडेंट रोहित वेमुला ने अपनी जान दे दी। जब मैंने उसकी चिट्ठी पढ़ी, तो मुझे रोना आ गया। इस चिट्ठी में उसने कहा कि मैं अपनी जान इसलिए दे रहा हूं कि मैंने इस रूप में जन्म लेने का पाप किया है। गौरतलब है कि वेमुला की खुदकुशी के लिए विपक्ष मोदी सरकार के मंत्रियों को जिम्मेदार बताता रहा है।

बीजेपी के युवा सांसद ने अल्पसंख्यकों की दुश्वारियों को भी रेखांकित करते हुए कहा था कि देश की आबादी में 17।18 प्रतिशत अल्पसंख्यक हैं, लेकिन इनमें से केवल चार फीसदी लोग उच्च शिक्षा हासिल कर पाते हैं। हमें इन समस्याओं को हल करना है।

वरुण ने देश में आर्थिक असमानता और कर्ज वसूली में भेदभाव को लेकर कहा था कि देश के ज्यादातर किसान चंद हजार रुपये का कर्ज न चुका पाने के चलते जान दे देते हैं, लेकिन विजय माल्या पर सैकड़ों करोड़ रुपये का कर्ज बकाया होने के बावजूद वह एक नोटिस मिलने पर देश छोड़कर भाग गया। उन्होंने देश के बड़े औद्योगिक घरानों पर बकाया कर्ज माफ करने पर कड़ी आपत्ति जताते हुए कहा कि अमीरों को रियायत दी जा रही है, जबकि गरीबों की थोड़ी सी संपत्ति को भी निचोड़ने का प्रयास किया जा रहा है।

loading...
शेयर करें