सोच- समझकर करें सेक्स, अब लड़कियों की वर्जिनिटी का भी हिसाब रखेगी सरकार

0

मॉस्को। आजकल सेक्स करना बहुत आम बात हो गई है,  लड़के और लड़कियां सेक्स को लेकर अपनी जिज्ञासा मिटाने के लिए  कम उम्र में ही अपनी वर्जिनिटी खो देते हैं। लेकिन क्या आपको पता है कि अब आपको अपनी वर्जिनिटी का हिसाब भी सरकार को देना पड़ेगा। जी हां, रूस के डॉक्टरों को कथित तौर पर यह निर्देश दिए गए हैं कि नाबालिग लड़कियों का वर्जिनिटी टेस्ट किया जाए।

वर्जिनिटी टेस्ट

वर्जिनिटी टेस्ट 16 साल से कम उम्र की लड़कियों का किया जाएगा

रूस की इनवेस्टिगेटिव कमिटी ने सभी मेडिकल प्रफेशनल्स को ये कहा है कि वो 16 साल से कम उम्र की लड़कियों की यौन गतिविधियों को लेकर प्रमाण इकट्ठे करें। हालांकि सरकार के इस फैसले से जनता काफी नाराज़ है। ‘द इंडिपेंडेंट’ की खबर के मुताबिक सिर्फ जनता ही नहीं  डॉक्टरों से लेकर राजनेता भी इस फैसले का विरोध कर रहे हैं। उनका मानना है कि इस फैसले से घबराकर अब किशोरियां जरूरत के समय भी डॉक्टर से संपर्क नहीं करेंगी। उन्हें डर रहेगा कि कहीं उनकी सच्चाई सार्वजनिक न हो जाए।

लेकिन रूस के स्वास्थ्य मंत्री ने  अपना फैसला न बदलते हुए साफ कर दिया है कि डॉक्टर्स को इस आदेश का पालन करना होगा और उन्हें पुलिस को 16 साल की सभी लड़कियों के वर्जिनिटी जाने, प्रेग्नेंसी, अबॉर्शन से जुड़ी जानकारी देनी होगी। इस ऑर्डर के मुताबिक डॉक्टर्स को लड़कियों के हाइमन की जांच करनी होगी।

हैरानी की बात है कि ये टेस्ट सिर्फ लड़कियों का ही किया जाएगा, लड़कों के वर्जिनिटी टेस्ट का कोई प्रवधान नहीं है। जहां एक तरफ दुनिया में महिलाओं और पुरूषों को बराबर का दर्जा देने की बात कही जाती हैं वहीं दूसरी और इस तरह से भेदभाव किया जा रहा है।

loading...
शेयर करें