वर्जिनिटी बचाए रखने वाली छात्राओं को यहां मिलती है स्कॉलरशिप

0

वर्जिनिटीआप पढ़ाई में होशियार हैं तो आपको स्‍कॉलरशिप मिलती है। अगर आप गरीब हैं तो भी आपको स्‍कॉलरशिप मिलती है। लेकिन क्‍या किसी लड़की को अपनी वर्जिनिटी बताने के लिए स्‍कॉलरशिप मिलते सुना है आपने। दरअसल साउथ अफ्रीका में एक ऐसी मेयर साहिबा हैं जो स्‍कूल और कॉलेज जाने वाली छात्राओं को अपनी वर्जिनिटी का खुलासा करने के लिए स्‍कॉलरशिप दे रही हैं।

वर्जिनिटी पर हर साल मिलेगी स्कॉलरशिप

साउथ अफ्रीका के क्वाजूलू-नाटाल राज्य के उथूकेला जिले की इस मेयर डूडू मोजिबूको के ऑफिस द्वारा हर साल ऐसी 100 से ज्यादा छात्राओं को स्कॉलरशिप देने की बात कही है। हालांकि स्कॉलरशिप पाने वाली छात्राओं को पहले अपनी वर्जिनिटी साबित करनी होगी। मेयर ने हाल ही में अपनी वर्जिनिटी साबित करने वाली 16 जवान छात्राओं को स्कॉलरशिप देकर इस योजना की शुरूआत की है।

बनाए रखनी होगी वर्जिनिटी

हालांकि वर्जिनिटी साबित कर स्कॉलरिशप पाने वाली छात्राओं की स्कॉलरशिप तब ही आगे के चालू रहेगी जब तक वो अपनी वर्जिनिटी कायम रखेंगी। इसके लिए मेयर ने भी छात्राओं को धन्यवाद दिया। दक्षिण अफ्रीका की इस मेयर ने यह अनोखी स्कीम वहां के हालात को देखते हुए उठाई है। दक्षिण अफ्रीका के बेसिक एजुकेशन डिपार्टमेंट के अनुसार लगभग साल 2014 में 20000 छात्राएं और जवान महिलाएं प्रेग्नेंट हुई थी। इनमें से 223 लड़कियां तो ऐसी है जो अभी प्राथमिक स्कूल में पढ़ रही हैं। इसके अलावा वहां के घरेलू सर्वे में पता चला है कि 2013 में दक्षिण अफ्रीका की 14 से 19 साल में ही 5.6 फीसदी लड़कियां प्रेग्नेंट हुई थी।

संविधान के खिलाफ नहीं है टेस्ट

मेयर डूडू मोजिबूको की पहल को इसलिए भी बल मिल रहा है, क्योंकि दक्षिण अफ्रीका के संविधान में इस टेस्ट को गलत नहीं बताया गया है। हालांकि मेयर की पहल की कई लोगों द्वारा यह कहकर अवलोचना भी की गई है, यह संस्कृति के विपरीत हैं। हालांकि मेयर ने अपनी ओर से कहा कि छात्राओं को आधुनिकता का ज्ञान कराने, उनकी सेहत बनाने समेत एचआईवी और एड्स से भी बचाय जा सकता सकता है।

loading...
शेयर करें