विकलांग कार ड्राइवर भी एक संदेश के साथ रैली में

0

विकलांग कार ड्राइवर भी एक संदेश के साथ रैली में आये हैं जिन्हें देखकर यह कहना पड़ता है कि मुश्किले सिर्फ उन्हीं के हिस्से में आती हैं जो हमेशा कुछ कर गुजरने की सोच रखते हैं तभी तो शरीर से अक्षम होते हुए भी आगरा ताज कार रैली में शामिल होने आये तीन प्रतिभागियों पर ही सभी की निगाहें रहीं।

विकलांग कार ड्राइवर

विकलांग कार ड्राइवर क्यों आए हैं

ये तीनों हैं दिल्ली के अंकित शर्मा, अमृतसर के देवेंद्र सिंह और जालंधर के अभय डोगरा। ये तीनों विकलांग कार ड्राइवर भी ताज कार रैली में अपने दोस्तों के साथ कार लेकर शामिल होने आये हैं। तीनों के ही पैर आम इंसानों की तरह सामान्य रूप से काम नहीं करते लेकिन इनकी सोच इन्हें उनसे काफी ऊपर ले जाती है। इन तीनों से बात करने के बाद हमें भी कुछ यहीं लगा। दरअसल इस रैली मे शारीरिक रूप से अक्षम प्रतिभागी भी हिस्सा ले रहे है। तीन प्रतिभागियों ने रैली मे अपने नेविगेटर के साथ रजिस्ट्रेशन कराया और ट्रेनिंग सेशन मे हिस्सा लेकर रूट की बारिकियों को जाना। उनका कहना है कि वे भले ही शारीरिक रूप से अक्षम है लेकिन लोगों को संदेश देना चाहते है कि कोई यदि ठान ले तो कुछ भी कर सकता है और अक्षमता कभी उनके आ़डे नही आती।

loading...
शेयर करें