विकास दुबे के ‘संदिग्ध मददगार’ लखनऊ निवासी वकील के घर पहुंची पुलिस

लखनऊ। 5 लाख के ईनामी बदमाश विकास दुबे का लखनऊ कनेक्शन जुड़ने के बाद राजधानी में हलचल तेज हो गयी है। गुरुवार को उज्जैन के महाकाल मंदिर के पास लखनऊ निवासी वकील मनोज यादव की कार मिलने के बाद यूपी पुलिस की तफतीश वकील मनोज यादव की तरफ भी घूम गयी है। उज्जैन में मनोज यादव सहित दो वकीलों को हिरासत में लेकर लखनऊ लाया जा रहा है। इसके साथ लखनऊ स्थित वकील के आवास पर भी पुलिस की एक टीम पूछताछ करने पहुंची है।

इंदिरानगर में वकील मनोज कुमार यादव के घर पर मौजूद उनकी पत्नी ने बताया कि उनके पति महाकाल के दर्शन करने गए थे। पत्नी के अनुसार मनोज यादव एक एनजीओ भी चलाते हैं। इसी सिलसिले में वह अकसर मध्य प्रदेश जाया करते हैं। वकील की पत्नी का कहना है मनोज यादव 2 जुलाई को महाकाल मंदिर गए थे। वह अपनी कार वहीं पर छोड़कर वापस आ गए थे। वकील की पत्नी ने कहा कि हमारा विकास दुबे केस से कोई मतलब नहीं है। हमें फंसाया जा रहा है।

बता दें कि एक नाटकीय घटनाक्रम के तहत गुरुवार सुबह विकास दुबे ने उज्जैन के महाकाल मंदिर पहुंच कर खुद को पुलिस के हवाले कर दिया। 2 जुलाई की रात कानपुर में 8 पुलिसकर्मियों की हत्या के बाद से ही यूपी पुलिस सरगर्मी से उसकी तलाश कर रही थी।

Related Articles