विशाखापटट्नम में प्रदर्शन रोकने के लिए प्रतिबंध, गिरफ्तारियां

0

विशाखापट्टनम। आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग को लेकर विरोध प्रदर्शन रोकने और एहतियात के तौर पर सुरक्षा बरतने के लिए पुलिस ने गुरुवार को विशाखापट्टनम में प्रतिबंध लगा दिया और कुछ लोगों को गिरफ्तार भी किया। एहतियात के तौर पर बुधवार देर रात विपक्षी वाइएसआर कांग्रेस पार्टी के सदस्यों को शहर के विभिन्न इलाकों से गिरफ्तार किया गया।

विशाखापट्टनम में प्रतिबंध

यह कदम शहरभर में 23 पुलिस थानों के अंतर्गत आने वाले क्षेत्रों में पांच या इससे अधिक लोगों के एक साथ एकत्र होने पर रोक लगाने के फैसले के बाद उठाया गया। पुलिस ने कहा कि किसी भी प्रकार की बैठक, रैली या जुलूस की अनुमति नहीं है। आरके समुद्र तट पर सुरक्षा कड़ी कर दी गई है, जहां युवाओं ने राज्य को विशेष दर्जा देने के लिए मौन विरोध प्रदर्शन करने की योजना बनाई थी।

सोशल मीडिया के जरिए युवाओं ने समुद्र तट पर एकत्र होकर विरोध प्रदर्शन करने की योजना बनाई थी। जन सेना पार्टी के प्रमुख व मशहूर अभिनेता पवन कल्याण और कुछ अन्य कलाकारों ने विरोध प्रदर्शन को समर्थन देने की घोषणा की थी। वाईएसआर कांग्रेस पार्टी ने आरके समुद्र तट पर गुरुवार शाम को मोमबत्ती की रोशनी में भी विरोध प्रदर्शन की योजना बनाई है।

इसके नेता जगनमोहन रेड्डी ने प्रदर्शन का नेतृत्व करने की घोषणा की है। मुख्यमंत्री एन. चंद्र बाबू नायडू ने साफ कर दिया है कि उनकी सरकार विशाखापट्टनम में विपक्षी दलों द्वारा किसी भी प्रकार की समस्या पैदा करने के प्रयासों को बर्दाश्त नहीं करेगी। उन्होंने यह भी कहा कि विपक्षी दल शुक्रवार को विशाखापट्टनम में होने वाले पार्टनरशिप समिट को बाधित करने की कोशिश कर रहे हैं।

loading...
शेयर करें