टीवी पर घिसे-पिटे विषयों पर शो बनने बंद होने चाहिए

0

मुंबई। टेलीविजन अभिनेता विशाल करवाल का मानना है कि छोटे पर्दे पर दिखाई जाने वाली कहानियां प्रतिगामी व घिसी-पिटी होती हैं और इसके जिम्मेदार कलाकार व निर्माता हैं, जिन्होंने इसे बर्बाद किया है।

यहां भी पढ़ें : इस एक्ट्रेस के बच्चे हैं सेंसिटिव

विशाल करवाल

विशाल करवाल ने कहा- टीवी पर घिसे-पिटे विषयों पर शो बनने बंद कर देना चाहिए 

विशाल ने बताया, “मैं इसे बहुत प्रतिगामी मानता हूं। मेरा मानना है कि हम जैसे कलाकारों जिसमें मैं भी शामिल हूं..ने काफी हद तक टेलीविजन को बर्बाद किया है और दर्शक संख्या फिर से पाने में वक्त लगेगा। जब मैं छोटा था, तब टीवी और देखने लायक शोज जैसे ‘मालगुडी डेज’, ‘तारा’, ‘सांस’ या ‘बनेगी अपनी बात..’ देखा करता था, वे शोज प्रगतिशील होते थे।” अभिनेता ने कहा कि घिसी-पिटी कहानियों पर शोज बनने बंद होने चाहिए, ताकि बेहतरीन कहानियां सामने आ सकें।

उन्होंने कहा, “हम इसका इल्जाम दर्शकों पर मढ़ देते हैं कि वे ऐसे शोज देखना चाहते हैं, लेकिन बेहतर कहानी के साथ आने के लिए हमें इस प्रकार के शोज को बनाना बंद करना चाहिए।” विशाल ने छोटे पर्दे पर ‘रोडीज’ और ‘स्पिलट्सविला’ जैसे रियलिटी शोज से आगाज किया। अपने करियर का श्रेय वह रियलिटी शोज को देते हैं।

उनका मानना है कि रियलिटी शोज लोगों का ध्यान आकर्षित करने में मददगार साबित होते हैं। उनका कहना है कि दोनों शो को कई सीजन आए हैं और करीब 500 से ज्यादा प्रतिभागी इसका हिस्सा रहे हैं, लेकिन उनमें से कुछ ही सक्रिय रूप से काम कर रहे हैं, निर्माता शुरुआत में आपकी मदद करते हैं, लेकिन बाद में अपनी प्रतिभा से खुद जगह बनानी होती है।

विशाल आगामी टीवी शो ‘परमावतार श्री कृष्ण’ में भगवान विष्णु के रूप में नजर आएंगे। वह इससे पहले पौराणिक शो में भगवान कृष्ण का किरदार निभा चुके हैं। उन्होंने कहा कि काल्पनिक पात्र निभाना बेहद आसान है, क्योंकि वहां सुधार करने का मौका मिलता है।

loading...
शेयर करें